नीट और जेईई परीक्षा के मामले में 150 शिक्षाविदों ने लिखा पीएम मोदी को पत्र

Share

परीक्षा में देरी हुई तो विद्यार्थियों का भविष्य बर्बाद हो सकता है

NEET-JEE Exam Matter
पीएम मोदी को नीट और जेईई जल्द कराने के लिए शिक्षाविदों ने लिखा पत्र

नई दिल्ली। नीट (NEET) और जेईई (JEE) परीक्षा को लेकर देश—विदेश से कई शिक्षाविदों ने पीएम मोदी (PM Modi) को पत्र लिखा है। पत्र में लिखा है कि परीक्षा में देरी हुई तो विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ होगा। कुछ पार्टियां अपने राजनीतिक एजेंडे को लेकर विद्यार्थियों के भविष्य को बर्बाद करने में लगी हुई हैं। कोविड—19 के बढते संक्रमण को देखते हुए सितंम्बर में हो रही नीट और जेईई (NEET-JEE Exam Matter) परीक्षा का विपक्षी दल काफी विरोध कर रहे हैं।

युवा और छात्र देश का भविष्य हैं

पत्र में लिखा गया है कि ‘‘युवा और छात्र देश के भविष्य हैं लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण, उनके करियर पर अनिश्चितताओं के बादल छा गए हैं। प्रवेश और कक्षाओं के बारे में बहुत सारी आशंकाएं हैं, जिन्हें जल्द से जल्द हल करने की आवश्यकता है।’’ पत्र में कहा गया है कि हर साल की तरह इस साल भी लाखों छात्रों ने अपनी कक्षा 12 की परीक्षाएं दी हैं और अब प्रवेश परीक्षाओं का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

पत्र में आगे लिखा है कि ‘‘सरकार ने जेईई (मुख्य) और नीट की तारीखों की घोषणा की है। परीक्षा आयोजित करने में किसी भी तरह की देरी से छात्रों का कीमती साल बर्बाद हो जाएगा। हमारे युवाओं और छात्रों (Student) के सपनों और भविष्य के साथ किसी भी कीमत पर समझौता नहीं किया जा सकता है। हालांकि, कुछ लोग बस अपने राजनीतिक एजेंडे को चलाने और सरकार का विरोध करने के लिए हमारे छात्रों के भविष्य के साथ खेलने की कोशिश कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:   भाजपा में नहीं जाएंगे पायलट, वरिष्ठ पत्रकार ने कहा- ठंडा करके खाना था

यह भी पढ़ें: संसद भवन के बाहर पुलिस ने एक संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा, संयुक्त पूछताछ जारी

शिक्षाविद जिन्होंने पत्र लिखा

हस्ताक्षरकर्ताओं में जिन विश्वविद्यालय के शिक्षाविद शामिल हैं वे हैं— दिल्ली विश्वविद्यालय, लखनऊ विश्वविद्यालय, जेएनयू, इग्नू, बीएचयू, आईआईटी दिल्ली के साथ-साथ कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, लंदन विश्वविद्यालय, हिब्रू यूनिवर्सिटी ऑफ यरुशलम और इजराइल के बेन गुरियन विश्वविद्यालय के शिक्षाविद शामिल हैं।

सोनिया गांधी ने 7 राज्यों के सीएम से बात की थी

NEET And JEE Exam
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी

कोरोना काल में सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने कल यानी बुधवार को नीट और जेईई की परीक्षा को टालने के लिए 7 गैर एनडीए राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की। और कहा कि जब तक स्थित ठीक नहीं हो जाती नीट—जेईई परीक्षा को टालने के लिए हमें सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए। उधर ममता बनर्जी ने कहा कि मैं सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से अपील करती हूं कि हम सभी को एक साथ मिलकर काम करना चाहिए। हम सभी को सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिए। वहां जाकर परीक्षा रोकने की अपील करनी चाहिए। जब तक परीक्षा में बैठने लायक स्थित नही हो जाती।

ममता बनार्जी (Mamta Banarji) ने आगे कहा कि परीक्षाएं सितम्बर में हैं हम विद्यार्थियों की जिंदगी को दांव पर नहीं लगा सकते। मैने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है लेकिन अभी तक उनका कोई जवाब नहीं आया है।

यह भी पढ़ें: जल्द ही अनुष्का शर्मा खुशखबरी देनें वाली हैं, जनवरी में आ सकता है नया मेहमान

बैठक में 7 राज्यों के सीएम मौजूद थे

बैठक में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश सिंह बघेल,पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, पुडुचेरी के मुख्यमंत्री नारायणसामी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मौजूद थीं।

यह भी पढ़ें:   अब भारत में डाउनलोड नहीं होगा टिकटॉक एप, गूगल ने हटाया अपने प्ले स्टोर से

उद्धव ठाकरे ने कहा

‘राज्य सरकारों को कमजोर करने की कोशिश की जा रही है। हम उस दिशा में बढ़ रहे हैं जहां पर सिर्फ एक ही व्यक्ति सबकुछ कंट्रोल कर रहा है। हमें इसके खिलाफ एक साथ आना होगा। हमें तय करना होगा कि केंद्र सरकार से डरना है या लड़ना है। अमेरिका की एक रिपोर्ट के मुताबिक, वहां जब स्कूल खोले गए थे तो लगभग 97 हजार बच्चे कोरोना से संक्रमित थे। अगर यहां ऐसी स्थिति बनती है तो हम क्या करेंगे?’

नीट और जेईई को लेकर तकरार शुरू

जहां एक तरफ बीजेपी (BJP) और उसके समर्थक नीट और जेईई की परीक्षा के पक्ष में हैं। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस (Congress) और कई अन्य पार्टियां परीक्षा को टालने के लिए सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी में हैं। अब ऐसे में देखना है कि सुप्रीम कोर्ट क्या फैसला लेती है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!