किसान कर्जमाफी पर कांग्रेस ने पेश किए ‘सबूत’, कमलनाथ ने बांटी पैन ड्राइव

Share

कमलनाथ और कांग्रेस का नहीं, सच्चाई का साथ दें – कमलनाथ

Kamalnath on Karjmafi
कमल नाथ, पूर्व मुख्यमंत्री, फाइल फोटो

भोपाल। मध्यप्रदेश में आगामी उपचुनावों (By Election) को लेकर तैयारी में जुटी कांग्रेस ने सबूत पेश किए है। उपचुनाव में किसान कर्जमाफी (Kisan Karjmafi) सबसे बड़ा मुद्दा होगा, लिहाजा पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ (Kamalnath) ने पैन ड्राइव (Pen Drive) बांटी है। मीडिया को बांटी गई पैन ड्राइव में किसानों के नाम, उनका पता और बैंक खाते की डिटेल दी गई है। कांग्रेस का दावा है कि कमलनाथ सरकार में प्रदेश के साढ़ 26 लाख किसानों का कर्ज माफ किया गया था। बता दें कि भारतीय जनता पार्टी, किसान कर्जमाफी को लेकर कमलनाथ की 15 महीने की सरकार पर लगातार हमले कर रही है। भाजपा का आरोप है कि किसानों का कर्ज माफ नहीं किया गया। इसी के जवाब में कांग्रेस ने पैन ड्राइव ‘बम’ फेंका है।

‘भाजपा की उपलब्धियों से नहीं, संगठन से मुकाबला’

चुनावी तैयारियों पर कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस का मुकाबला भाजपा सरकार की उपलब्धियों से नहीं हैं, भाजपा के संगठन से है। लिहाजा बीते 4 महीनों में संगठन को मजबूत किया गया है। कमलनाथ ने जनता से अपील करते हुए कहा कि ये चुनाव प्रदेश के भविष्य का चुनाव है। भाजपा सरकार के 15 साल और कांग्रेस के 15 महीने की तस्वीर जनता के सामने है। कमलनाथ ने कहा कि जनता कांग्रेस या कमलनाथ का नहीं, सच्चाई का साथ दें।

सुनिए क्या कहा कमलनाथ ने

जनता कांग्रेस का नहीं, सच्चाई का साथ दें – कमलनाथ

Gepostet von The Crime Info am Donnerstag, 27. August 2020

‘कलंकित हुआ प्रदेश’

मध्यप्रदेश में हुए सियासी उलटफेर पर कमलनाथ ने बड़ी बात कही। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार की बोली लगाई गई। विधायकों की खरीदफरोख्त की गई। इन सब कामों से प्रदेश कलंकित हुआ है। लोगों के सामने ऐसी तस्वीर गई कि इस प्रदेश में जब राजनीति बिकाऊ है, तो सबकुछ बिकाऊ होगा। प्रचार और नौटंकी की राजनीति सब समझ रहे है। कैसे संविधान और प्रजातंत्र से खिलवाड़ किया गया।

यह भी पढ़ें:   Video : सिंधिया को कमलनाथ का जवाब, कई प्रकार के टाइगर होते हैं, कोई सर्कस का, कोई पेपर का..
‘सबका हिसाब होगा’

कमलनाथ ने सरकार पर पुलिस अधिकारी और प्रशासनिक अधिकारियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया है। कमलनाथ ने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि सबका हिसाब लिया जाएगा। भेदभाव करने वाले अधिकारियों का रिकॉर्ड तैयार किया जा रहा है। पुलिस वाले वर्दी और अधिकारी अपनी शपथ की इज्ज करें।

भाजपा का पलटवार

भाजपा प्रवक्ता ने हितेश वाजपेयी ने कहा कि – किसानों की कर्जमाफी की कमलनाथ की काली पेन ड्राइव की CBI जांच होना चाहिए। 26 लाख किसानो के कर्ज की राशि कभी बैंको को दी ही नहीं गयी अपितु केवल ब्याज की राशि ही दी गयी। कांग्रेस का सदी की यह किसानों से की सबसे बड़ी *गद्दारी* है।

यह भी पढ़ेंः नीट और जेईई की परीक्षा का मामला, 150 शिक्षाविदों ने लिखा पीएम को पत्र

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!