Property Dealer Suicide : एसिड पीकर की आत्महत्या

Share

Property Dealer Suicide : परिवार का आरोप जमीन विवाद में पिता—पुत्र कर रहे थे प्रताड़ित, पुलिस का दावा अभी हमारी जांच बाकी

Property Dealer Suicide
एसिड पीने वाले प्रॉपर्टी डीलर मनोहर लाल काररा

भोपाल। प्रॉपर्टी डीलर की संदिग्ध मौत (Property Dealer Suicide) हुई है। उसने दो दिन पहले एसिड पी लिया था। घटना मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) की है। मौत की वजह एक जमीन को लेकर चल रहा विवाद (Bhopal Property Dispute Suicide Case) है। जिसमें मरने वाले प्रॉपर्टी डीलर के व्यवसायिक पार्टनर की भूमिका सामने आ रही है। परिवार पार्टनर पर संगीन आरोप लगा रहा है। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम किया है। पुलिस का दावा है कि मृत्यु पूर्व कथन नहीं होने की वजह से जांच अभी धीमी है। परिजनों के बयान के बाद वस्तुस्थिति सामने आएगी। पुलिस ने शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

यह था मामला

गौतम नगर थाना पुलिस ने बताया कि बुधवार सुबह लगभग 9 बजे चिरायु अस्पताल (Bhopal Chirayu Hospital) से एक व्यक्ति की मौत की सूचना आई थी। यह व्यक्ति मनोहर लाल काररा (Manohar Lal Karara) पिता जियोमल काररा उम्र लगभग 55 साल है। मनोहर लाल काररा (Manohar Lal Karara Suicide Case) कोलार स्थित शिर्डीपुरम इलाके में रहते थे। उनका गौतम नगर इलाके में स्थित शीतल नगर में प्रॉपर्टी डीलिंग का कार्यालय था। इसी कार्यालय के नजदीक 6 जुलाई को मनोहर लाल काररा ने एसिड (Acid Pikar Jaan Di) पी लिया था। गौतम नगर थाना प्रभारी एमके मिश्रा (TI MK Mishra) ने बताया एसिड पीने की वजह से वह बयान देने की स्थिति में नहीं थे। इस कारण मृत्यु पूर्व कथन नहीं हो सके हैं।

यह भी पढ़ें:   बच्चों की मौत का आंकड़ा 11 पर पहुंचा, शहडोल जाएगा कांग्रेस का जांच दल

यह भी पढ़ें : वैश्विक महामारी का फायदा उठा रहे प्रदेश में फैले शिक्षा माफिया के लोग

इसलिए पिया एसिड

मनोहर लाल काररा के पारिवारिक मित्रों ने बताया कि वह प्रॉपर्टी के एक विवादित जमीन को लेकर परेशान चल रहे थे। यह जमीन विदिशा रोड पर स्थित है। मनोहर लाल काररा के तीन बेटे आकाश, अमित और सागर हैं। तीनों ने इस बात की पुष्टि की लेकिन आधिकारिक बयान नहीं दिया। विवाद दिलीप आहूजा (Dilip Ahuja) और उसके बेटे पंकज आहूजा (Pankaj Ahuja) से चल रहा था। पुलिस का दावा है कि यह दोनों पिता—पुत्र के व्यवसायिक पार्टनर होने की जानकारी मिली है। जिसके संबंध में अभी जांच की जाना बाकी है।

यह थी लापरवाही

पारिवारिक मित्रों ने बताया कि मनोहर लाल काररा को फोन करके दिलीप आहूजा ने बुलाया था। उसके साथ बेटा पंकज भी था। दोनों के सामने मनोहर लाल काररा ने एसिड पिया (Property Dealer Ne Acid Piya) था। जिसके बाद पिता—पुत्र ने घटनास्थल से चंद कदम दूर मौजूद अस्पताल भी नहीं पहुंचाया। मनोहर लाल काररा (Manohar Lal Karara Acid Drink Case) के बेसुध पड़े होने की जानकारी बेटे को मिली तो वह उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचा था। पुलिस का कहना है कि अभी पीएम रिपोर्ट मिलना बाकी है। परिजनों के बयान के बाद कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें : इस्तीफा देने वाले विधायकों को मंत्री बनाने पर नाराज एक आम आदमी ने मुख्यमंत्री को लिखा ऐसा “खतरनाक पत्र”

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Police Constable Suicide Attempt : आईपीएस एसोसिएशन ने भी चेताया था, फोर्स अकेला महसूस न करे
Don`t copy text!