Pyare Miyan Case: जालसाजी के मामले में चार दिन का पुलिस रिमांड

Share

Pyare Miyan Case: शाहपुरा, कोहेफिजा के बाद अब श्यामला हिल्स थाना पुलिस ने मांगा अदालत से रिमांड

Pyare Miya Rape Case
नाबालिगों से ज्यादती के मामले में गिरफ्तार आरोपी प्यारे मियां— फाइल फोटो

भोपाल। उर्दू भाषा में प्रकाशित अफकार अखबार के मालिक प्यारे मियां (Pyare Miyan Case) को भोपाल के कोहेफिजा थाना पुलिस ने रिमांड समाप्त होने के बाद जिला अदालत (Bhopal Court News) में पेश किया। जहां से उसको भोपाल के श्यामला हिल्स थाना पुलिस ने अपने यहां दर्ज मामले में पूछताछ के लिए चार दिन का रिमांड मांगा। मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल का चर्चित नाबालिगों के यौन शोषण मामले के आरोपी प्यारे मियां के खिलाफ भोपाल (Bhopal Crime News) के थानों में अलग—अलग तीन मुकदमे दर्ज है। दो मुकदमे नाबालिगों के साथ ज्यादती के तो एक मुकदमा जालसाजी (Pyare Miyan Case) का है।

आरोपियों की भूमिका का पता लगाना बाकी

Pyare Miyan Case
गिरफ्तार आरोपी शाहबुद्दीन जमाली उर्फ आशी File Photo

आरोपी प्यारे मियां को जिला अदालत में जेएमएफसी स्नेहा सिंह (JMFC Sneha Singh) की अदालत में पेश किया गया। मीडिया सेल के प्रभारी मनोज त्रिपाठी (Manoj Tripathi) ने बताया कि अदालत में एडीपीओ योगेश तिवारी (ADPO Yogesh Tiwari) ने दलीले पेश की थी। अदालत को बताया गया कि आरोपी के खिलाफ 24 जुलाई, 2020 को जालसाजी और गबन (Bhopal Tower Cheating Case) का मुकदमा दर्ज है। इसमें एक आरोपी एस जमाली (S.Jamali) को गिरफ्तार किया जा चुका है। बाकी आरोपियों के संबंध में पूछताछ की जाना है। अदालत ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद आरोपी प्यारे मियां को 3 अगस्त ​तक के लिए रिमांड (Pyare Miyan Police Remand) पर सौंप दिया गया।

यह भी पढ़ें: पहले पुलिस ने बुजुर्ग समझकर हाथों में धर दिया डंडा, अब सुबह—शाम उसके आगे शीश झुकाने को मजबूर

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: लॉक डाउन में ट्रक दिलाने का झांसा देने वाला धराया

वकील को धमकी

प्यारे मियां अंसल अपार्टमेंट में रहता था। यहां जिस ब्लॉक में वह रहता था उसकी सोसायटी बनाकर एयरटेल का टॉवर लगाया था। जिससे उसको 60 लाख रुपए की आय हुई थी। इस आय को अंसल अपार्टमेट की वास्तविक सोसायटी को जानकारी उसने नहीं दी थी। इधर, आरोपी की तरफ से जिला अदालत में पैरवी कर रहीं महिला वकील को धमकी दी है। उन्हें कहा गया है कि वह प्यारे मियां का केस न लड़े। इस संबंध में मिसरोद थाने में महिला वकील ने आवेदन दिया है।

क्या है मामला

भोपाल के रातीबड़ थाना क्षेत्र में पांच नाबालिग मोपेड पर पुलिस को मिली थी। जिनसे पूछताछ के बाद पता चला था कि उनसे प्यारे मियां यौन शोषण (Pyare Miyan Minor Girl Rape Case) करता था। यह काम वह शाहपुरा स्थित विष्णु हाईटेक सिटी में अंजाम देता था। इसलिए मामला जीरो पर दर्ज करके केस डायरी शाहपुरा थाने पहुंचाई गई। इस मुकदमे में शाहपुरा पुलिस दो बार प्यारे मियां को पांच—पांच दिन की रिमांड लेकर पूछताछ कर चुकी है। इसके बाद कोहेफिजा पुलिस ने अपने यहां दर्ज ज्यादती (Bhopal Minor Girl Rape Case) के एक अन्य मामले में उसको रिमांड पर लिया था।

यह भी पढ़ें: भोपाल में जब पुलिस ने सख्ती दिखाई तो भागकर श्रीनगर की होटल में प्यारे मियां ने ली थी पनाह

क्या बोलकर मांगा रिमांड

प्यारे मियां (Pyare Miyan Case) के कारनामे उजागर होने के बाद भोपाल नगर निगम ने उसका उसका अफकार शादी हॉल कब्जे का बताकर उसको तोड़ा था। वहीं अंसल अपार्टमेंट की छानबीन में एक डांस बार भी मिला था। पुलिस को प्यारे मियां की कार लावारिस वीआईपी रोड पर मिली थी। इससे पहले भोपाल पुलिस प्यारे मियां को पोर्न वीडियो जब्त करने और इंदौर जाकर बंदूक जब्त करने का कहकर रिमांड ले चुकी है। हालांकि इस रिमांड में अब तक पुलिस को कोई कामयाबी नहीं मिली है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cheating Case : नौकरी चाहिए तो फॉर्म भरिए!

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!