Bhopal Cop News: मेवालाल को मनाने जुटा पुलिस का महकमा

Share

Bhopal Cop News: चार बार घर के चक्कर काटे, समझौते के लिए डाल रहे दबाव

Brutal Bhopal Cop
पुलिस अमानवीयता का शिकार हाथ फ्रैक्चर दिखाते हुए घर पर बैठा मेवालाल बरैया

भोपाल। चोरी वह भी सीनाजोरी के साथ। कुछ ऐसी ही कहावत मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के कोलार थाने में फिट बैठ रही है। दरअसल, कोलार थाने की एक डायल—100 के कर्मचारी ने अपने लठ से जोरदार प्रहार करके उसका हाथ तोड़ (Bhopal Cop News) दिया। हाथ तोड़ने के बाद उसको न्याय और इलाज कराने की बजाय फौरी राहत देकर भगा दिया। अब मामला जब मीडिया (Bhopal Cop Brutal Case) में सामने आ गया तो पुलिस लगी है मेवालाल को मनाने के लिए। कभी बाइक तो कभी मैजिक लेकर उसके घर पहुंच जा रही है।

यह भी पढ़ें: लॉक डाउन के लिए पुलिस ने एक बुजुर्ग को पीटकर पूरे इलाके में कुछ इस तरह से सन्नाटा पसराया कि वह अब गले की हड्डी बन गया

पुलिस का ऐसा प्यार

कोलार स्थित ओम नगर में रहने वाला मेवालाल (Mevalal) भी हैरान है। उसको 24 तारीख की शाम साढ़े सात बजे डंडा (Bhopal Cop Beaten Case) मारा था। उसके पास नगर निगम वेंडर का भी परिचय पत्र था। अब कोरोना ड्यूडी के चलते पुलिस के पास यह देखना का समय कहा था। उसने भीड़ देखकर वहां पहुंची डायल—100 के कर्मचारी ने डंडा चलाना शुरु कर दिया। पुलिस के निशाने पर विशेष कोई वर्ग नहीं था। बस चपेट में मेवालाल आ गया। डंडा लगते साथ मेवालाल कुछ समझ ही नहीं पाया।

मेवालाल आज भी नाराज

मेवालाल का कहना है कि उसको पता है कि पुलिस उसके दरवाजे (Bhopal Cop News) क्यों आ रही है। कभी बाइक तो कभी कोरोना ड्यूटी के लिए अधिगृहित की गई मैजिक से उसको लेने घर पहुंच जाती है। जांच अधिकारी एबी मर्सकोले (SI AB Marskole) का कहना है कि थाने में साहब उससे बातचीत करना चाहते हैं। अब बातचीत का मतलब साफ है कि समझौता। पुलिस ने पहले दिन किसी तरह की बातचीत ही नहीं की। इलाज के पर्चे से लेकर सारे दस्तावेज खुद ने रख लिए। मेवालाल का कहना है कि उसके आम के हुए नुकसान की भरपाई पुलिस जब तक नहीं करेगी वह माफ नहीं करेगा।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: मंगलसूत्र की कीमत तुम क्या जानो

यह भी पढ़ें: नाबालिग से जुड़ा ऐसा मामला जिसमें पहले मारपीट फिर बलात्कार का मुकदमा

डीआईजी कोलार थाने पहुंचे

भोपाल डीआईजी सिटी इरशाद वली (DIG City Irshad Wali) कोलार थाने पहुंचे। यहां उन्होंने कोरोना से निपटने किए जा रहे इंतजाम को लेकर अफसरों से रिपोर्ट मांगी। पुलिस कर्मचारियों से भी उन्होंने चर्चा की। थाने में दो नाबालिगों से ज्यादती का मामला (Kolar Rape Case) दो दिन पहले सामने आया था। इससे पहले मेवालाल बरैया से मारपीट का केस पहुंचा था। मेवालाल का बेटा विजय होशंगाबाद में रहता है। पत्नी का देहांत हो चुका है। वह अकेला रहता है और खाना बनाने से लेकर कारोबार अकेल अपने दम पर करता है। अब उसके सामने खाने—पीने से लेकर रोजगार का संकट खड़ा हो गया है।

मेवाराम से सुनिए वो क्या चाहते है

बुजुर्ग का हाथ तोड़ने के बाद अब समझौते का दवाब बना रही भोपाल पुलिस

Gepostet von The Crime Info am Donnerstag, 30. Juli 2020

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!