Bhopal News: दुल्हन बनाने का सौदा, उजागर हुआ गैंगेरप का राज

Share

Bhopal News: बलात्कार के आरोपी की पत्नी से जुड़ी दिल दहला देने वाली सनसनीखेज कहानी, बलात्कार करने वाले बाप—बेटे फरार

Bhopal News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज (Bhopal News) रातीबड़ इलाके से मिल रही है। यह खबर सभ्य मानव समाज में बैठे उन दरिंदें बाप—बेटे से जुड़ी है जो इस वक्त फरार चल रहे हैं। पीड़िता एक बलात्कार के मामले में गिरफ्तार व्यक्ति की पत्नी है। आरोपी बाप—बेटे ने आसरा दिलाने के बहाने कई दिनों तक बारी—बारी से उसकी आबरु लूटी। फिर अचानक उसका 60 हजार रुपए में सौदा करके भाग गए। यह पूरा मामला तब उजागर हुआ जब पीड़िता दोबारा दुल्हन बनाई गई। इस पूरी कहानी को बारीकी से पढ़ने के बाद आप भी वैसे ही दंग रह जाएंगे जैसी भोपाल की पुलिस हुई। हालांकि पुलिस ने इस पूरे मामले में बहुत ज्यादा संवेदनशीलता दिखाई है।

ढ़ाबे में हंगामा होने पर मामला पहुंचा

रातीबड़ थाना पुलिस के अनुसार इलाके में प्रताप ढ़ाबा (Pratap Dhaba) है। जिसके संचालक नरेश हैं और वे हिन्दू मैरिज एक्ट के अनुसार शादी कराने का काम करते हैं। उनके यहां 12 जुलाई को तीन—चार लोग विदिशा (Vidisha) से शादी करने आए थे। उनके साथ एक लड़की भी थी। लड़की ने फेरे लिए और बंधन में भी बंधी। लेकिन, जब सर्टिफिकेट में हस्ताक्षर की बारी आई तो वह मुकर गई। इस कारण वहां विवाद की स्थिति बनी और मामला थाने पहुंचा। थाने में शादी करने वाले व्यक्ति का पक्ष सुना गया। उन्होंने बताया कि लड़की से शादी के लिए उन्होंने लोकेश (Lokesh) के साथ सौदा किया था। बकायदा 60 हजार रुपए भी दिए गए थे। लेकिन, लोकेश वहां मौजूद नहीं था। इसलिए पुलिस ने लड़की से पूछताछ की तो कहानी सुनकर सभी दंग रह गए।

यह भी पढ़ें: यदि आपने दोस्त बनाने के लिए इस डेटिंग एप्प को डाउनलोड किया है तो उन चेहरों के बारे में जान लीजिए जो आपके लिए मुश्किलें खड़ी करेंगी

सास—ससुर ने भगाया

Bhopal News
घरेलू हिंसा पर केंद्रीत साभार लिया गया सांकेतिक चित्र

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह पहले से ही शादीशुदा है। पीड़िता का मायका आगरा (Agra) में है और उसका एक बच्चा भी है। ससुराल भोपाल के बजरिया इलाके में हैं। पति मैकेनिक की दुकान चलाता था। जिसके पीपुल्स मॉल (People Mall Sales Girl Rape) में काम करने वाली युवती से अवैध संबंध हो गए थे। युवती ने उसके पति के खिलाफ बलात्कार का मुकदमा लगभग एक पखवाड़े पहले दर्ज कराया था। जिसमें वह गिरफ्तार होकर जेल चला गया है। उसके जेल जाते ही ससुराल वालों ने बच्चा अपने पास रखकर उसको घर से बेदखल कर दिया था। उसके पास रहने के लिए जगह नहीं थी। इसलिए वह छोला इलाके में शिव नगर चली गई थी। वहां उसकी मुलाकात रवि नाम के व्यक्ति से हुई थी। उसने पनाह देते हुए एक कमरा किराया का दिला दिया था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: चार आरोपियों से 16 वाहन बरामद

कई बार किया बलात्कार

पीड़िता ने बताया कि रवि (Ravi) अपने पिता रमेश के साथ रहता था। दोनों ने पनाह देने के बहाने उसकी कई बार अस्मत लूटी। उसके सामने घर नहीं होने की सबसे बड़ी मजबूरी थी। इसलिए वह चुपचाप होकर वह सबकुछ झेलती रही। पीड़िता ने बताया कि एक ही दिन में रवि और उसके पिता रमेश (Ramesh) ने कई बार बारी—बारी से बलात्कार किया। उसको बदनामी होने की धमकी देकर चुप कराया जाता था। उसका कहना था कि वह शादी की बात को नहीं जानती थी। यह सबकुछ बातें तो रातीबड़ इलाके में आने पर पता चली। जब फेरे लिए गए तब तक काफी सोचा। फिर मैंने विरोध करने का फैसला लिया। इस खुलासे के बाद पुलिस ने शिव नगर में जाकर रवि और उसके रिश्तेदारों के ठिकानों पर दबिश भी दी। पूरा परिवार अपने—अपने घरों से गायब है।

यह भी पढ़ें: यह शातिर चार जालसाज जिनका नेटवर्क गांव में फैला था, पुलिस को भी खबर है कि पीछे नेता का है

अफसरों से राय लेने के बाद यह हुआ फैसला

Bhopal News
सांकेतिक चित्र

इन बातों को सुनने के बाद रातीबड़ थाना पुलिस के अनुसार 13 जुलाई को लगभग अपरान्ह चार बजे धारा 420/34 (जालसाजी और एक से अधिक आरोपी) के तहत केस दर्ज किया गया है। शिकायत सरवन कुमार प्रजापति पिता मुन्नालाल प्रजापति उम्र 33 साल ने की है। घटना प्रताप ढ़ाबा के नजदीक 12 जुलाई की शाम लगभग साढ़े चार बजे हुई थी। इस मामले में आरोपी रमेश, रमेश का बेटा रवि और रवि का जीजा लोकेश हैं। पुलिस ने बताया कि इस मामले में दूसरी एफआईआर रातीबड़ थाना पुलिस ने ही जीरो पर दर्ज की है। जिसमें महिला की शिकायत पर आरोपी रमेश, उसके बेटे रवि और जीजा को आरोपी बनाया गया है। इसमें बलात्कार, बंधक बनाकर रखना और मानव तस्करी की धारा लगाई गई है। यह एफआईआर आगे की जांच के लिए छोला मंदिर थाना भेजी जा रही है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Robbery: अंग्रेजों के जमाने में बनी जेल में चोरी

अभियोजन से भी ली गई राय

गैंगरेप के साथ—साथ मानव तस्करी के इस सनसनीखेज (Bhopal News) मामले में पुलिस ने दो मुकदमे दर्ज किए है। जिसमें विदिशा निवासी सरवन कुमार प्रजापति (Sarvan Kumar Prajapati) की शिकायत पर जालसाजी का केस दर्ज किया गया है। सरवन कुमार प्रजापति के परिवार ने ही 60 हजार रुपए में महिला को शादी के लिए खरीदा था। इस मामले के मुख्य सूत्रधार आरोपी रमेश, रमेश का बेटा रवि और रवि का जीजा लोकेश बनाए गए हैं। रमेश ट्रक में ड्रायवरी करता है। वहीं रवि जुमेराती में स्थित एक बिजली दुकान में नौकरी करता है। बाप—बेटों को रिश्ता तय कराने पर लोकेश ने 10 हजार रुपए दिए थे। इस पेचीदे मामले में कार्रवाई के लिए पुलिस ने अभियोजन के अधिकारियों से भी राय ली थी। जिसके बाद दो मुकदमे दर्ज करने का फैसला लिया गया।

यह भी पढ़ें: पुलिस कह रही है महिला सड़क दुर्घटना में जख्मी हुई थी, परिवार का दावा है कि उसकी पुलिस ने ही हत्या की है

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!