Bhopal Fraud Case: अपनों को बचाने दूसरे दरवाजे से दर्ज की गई एफआईआर

Share

Bhopal Fraud Case: करोड़ों रूपए डकार गया तड़ीपार डेव्हलपर की हैरान कर देने वाली कहानी

Bhopal Fraud Case
File Image

भोपाल। तड़ीपार बदमाश के खिलाफ पिछले दिनों शिकायत हुई थी। इस शिकायत की जांच में बंदरबाट (Bhopal Fraud Case) भी किया गया। बयानों को तोड़मरोड कर पेश किया गया। इन आरोपों की आला अफसरों से शिकायत हुई थी। घटना मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Cheating News) की है। इस साजिश में पुलिस के अफसर पर गंभीर आरोप लगे हैं। यह मामला मीडिया में लीक हो चुका है। जिसको दबाने के लिए दूसरे दरवाजे से एफआईआर दर्ज की गई हैं। मामला करोड़ों रूपए की धोखाधड़ी से जुड़ा है।

तड़ीपार बना डेव्लपर

कोलार थाना प्रभारी सुधीर अरजरिया (TI Sudhir Arjariya) ने बताया कि आरोपी सुनील यादव के खिलाफ जालसाजी का मुकदमा दर्ज किया गया है। सुनील (Sunil Yadav) मूलत: चीर गांव का रहने वाला हैं। फिलहाल वह दानिश कुंज इलाके में रहता है। वह जमीन खरीदने—बेचने का काम करता था। देश में 2008—2009 में जब मंदी आई थी। उसी समय सुनील यादव (Cheater Sunil Yadav) की किसमत जागी। उन्हीं पैसों से उसने कॉलोनी डेव्हलपर का काम शुरू किया। इसके लिए उसने कोलार थाना क्षेत्र में आफिस भी खोल लिया था। पुलिस के रिकॉर्ड में उसे जिला बदर बदमाश बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

जानिए जालसाज के कारनामे

द क्राइम इंफो से बातचीत में कॉलिन मैथ्यू (Collin Mathew) ने बताया वह मुथूट फायनेंस में नौकरी करता हैं। सुनील यादव के पास सफारी गाड़ी थी। गाड़ी के काम से अक्सर उसका कंपनी में आना—जाना लगा रहता था। सुनील यादव ने उसको 2011 में एक जमीन दिखाई थी। जमीन की कीमत करीब 8 से 10 करोड़ रूपए थी। सुनील यादव ने जमीन खरीदने के लिए बोला। उसने करार किया कि लाभ होने पर वह उसको शेयर करेगा। उसी जमीन में मैथ्यू ने 24 लाख रूपए लगा दिए। कुछ समय बाद सुनील यादव ने वह जमीन बेच दी। फिर वह गायब हो गया। मामला थाने पहुंचा, जिसको अफसरों ने दबा लिया। इस संबंध में शिकायत एसपी साई कृष्णा थोटा से की गई थी। जिन्होंने हबीबगंज सीएसपी भूपेंद्र सिंह (CSP Bhupendra Singh) को जांच करने के आदेश दिए थे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation: वेलेंटाइन डे पर सिरफिरे ने स्कूल संचालिका के सामने रख दिया यह प्रस्ताव

करोड़ों का घपला करके हुआ फरार

कोलार थाना पुलिस ने बताया रविवार रात साढ़े आठ बजे लखन लाल उइके पिता बृजलाल ने सुनील यादव के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने सुनील यादव के खिलाफ धारा 420 (धोखाधड़ी) का मामला दर्ज कर लिया है। लखनलाल ग्राम थुआखेड़ा का रहने वाला है। उसने सुनील से संपर्क करने 2012 में थुआखेड़ा स्थित सात एकड़ जमीन अनिता ठाकुर (Anita Thakur) को बेची थी। जमीन की कीमत करीब एक करोड़ 36 लाख रूपए थी। सुनील ने दोनों पार्टी से प्रति एकड़ 10—10 लाख रूपए लेने की बात बोली। दोनों पक्ष राजी हो गए। उसके बाद सुनील ने जमीन की हेराफेरी (Bhopal Herapheri News) कर फर्जी बैंक के चेक पीड़ित को पकड़ा दिए। इसी संबंध में शिकायत की जांच थाने में लंबित थी।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में माफिया को दफनाने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री को राजधानी के इन हालातों पर सवाल अफसरों से जरुर पूछना चाहिए

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!