Bhopal Suspicious Death: पेड़ में लटकी मिली दो—तीन दिन पुरानी लाश

Share

Bhopal Suspicious Death: तीन लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों मेें हुई मौत

Bhopal Suspicious Death
File Image

भोपाल। पेड़ में लटकी एक युवक की दो से तीन दिन पुरानी लाश मिली है। लाश मिलने से इलाके में सनसनी (Bhopal Suspicious Death) फैल गई थी। घटना स्थल से कोई ठोस सबूत हाथ नहीं लगा है। वहीं मानव भ्रूण पुलिस को मिला है। दोनों घटनाएं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Hanging News) के देहात क्षेत्र की है। इधर, दो अन्य व्यक्तियों की मौत के मामले में पुलिस ने मर्ग कायम किया हैं। शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिए गए हैं।

मनमौजी था युवक

गुनगा थाना पुलिस ने बताया कि अन्नू उर्फ अनूप जाट ([email protected] Jaat) पिता हरनाम उम्र 22 साल ने आत्महत्या कर ली हैं। जांच अधिकारी आरक्षक राजवीर सिंह (Rajveer Singh) मामले की जांच कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि अन्नू उर्फ अनूप मूलत: ग्राम रतुआ का रहने वाला था। पिता मजदूरी करते हैं। वह दो भाई थे। अनूप छोटा लड़का हैं। वह कक्षा 10वीं तक पढ़ाई किया था। परिजनों ने बताया वह मनमौजी था। कुछ समय ठेकेदार के साथ काम करता था। कभी मजदूरी करता था। चार—पांच दिन तक घर से बिना बताए वह चला जाता था। काम खत्म करने के बाद वापस आ जाता था।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

गुरूवार से था लापता

जांच अधिकारी ने बताया अनूप गुरूवार सुबह घर से निकला था। परिजनों को लगा वह पहले की तरह वापस लौट आएगा। इसलिए उन्होंने कोई ध्यान नहीं दिया। रविवार रात साढ़े आठ बजे घर से कुछ दूर भगवत शर्मा की पांच एकड़ जमीन हैं। उस जमीन पर लगे खाकर के पेड़ से लटकी हुई उसकी लाश मिली थी। पुलिस ने शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। वहीं घटना से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: संदिग्ध परिस्थितियों में दो व्यक्तियों की मौत

शराब पीने का आदी था मृतक

मिसरोद थाना पुलिस ने बताया चिरोंजीलाल अहिरवार (Chironjilal Ahirwar) पिता मंचेलाल उम्र 48 साल निवासी ढोलक बस्ती जाटखेडी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत (Bhopal Suspected Death) हुई हैं। परिजनों ने बताया चिरोंजीलाल मिस्त्री का काम करता था। वह मूलत: छतरपूर (Chhatarpur) का रहने वाला था। उसे टीवी की बीमारी थी। परिजन उसका इलाज दिल्ली में अस्पताल में करा रहे थे। इसके अलावा भोपाल अस्पताल (Bhopal Hospital) में भी इलाज चल रहा था। वह शराब पीने का आदी था। रविवार सुबह ठेकेदार घर लेने पहुंचा तो चिरोंजीलाल ने जाने से मना कर दिया। दोपहर अचानक दिन में सीने में दर्द की शिकायत होने से परिजन एम्स अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मानव भ्रूण मिला

टीलाजमालपुरा थाना पुलिस को समीर खान (Samir Khan) पिता अब्दुल माजिद ने बताया वह कांग्रेस नगर की रहने वाली है। रविवार रात समीर खान ससुराल से घर लौट रहा था। तभी काजीकेंप के नजदीक एक मानव भ्रूण करीब 40 दिन का मृत अवस्था में मिलने की सूचना दी थी। पुलिस ने भ्रूण को पीएम के लिए हमीदिया अस्पताल भेज दिया है। इधर, असलम 40 साल की सीढ़ियों से गिरने के कारण अस्पताल में मौत हो गई है। इस मामले में गौतम नगर थाना पुलिस ने मर्ग कायम किया है।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में माफिया को दफनाने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री को राजधानी के इन हालातों पर सवाल अफसरों से जरुर पूछना चाहिए

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!