ट्रायल के लिए अनफिट पाए गए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा

Share

कोरोना वैक्सीन ट्रायल के लिए वॉलेंटियर बनना चाहते थे गृह मंत्री

Narottam Mishra
नरोत्तम मिश्रा, गृह मंत्री, मध्यप्रदेश

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना वैक्सीन का ट्रायल (Vaccine Trial) शुरु हो गया है। वॉलेंटियर्स पर वैक्सीन का ट्रायल किया जा रहा है। अंदेशा जताया जा रहा है कि ट्रायल के लिए वॉलेंटियर्स नहीं मिलेंगे। लिहाजा गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने कदम आगे बढ़ाया था। लेकिन गाइडलाइन के तहत वो ट्रायल के लिए अनफिट पाए गए है। गृह मंत्री आज वॉलेंटियर बनने पीपुल्स हॉस्पिटल पहुंचे थे।

राजधानी के पीपुल्स हॉस्पिटल में कोरोना ट्रायल के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। शुक्रवार को गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी वैक्सीन लगवाने पहुंचे थे। लेकिन डॉक्टर्स ने उन्हें वैक्सीन लगाने से इनकार कर दिया। मेडिकल कॉलेज के डीन कर्नल अनिल दीक्षित ने बताया कि आईसीएमआर की गाइड लाइन के मुताबिक वैक्सीनेशन वॉलेंटियर के लिए आवश्यक है कि उनके किसी निकट परिजन को कोविड-19 नहीं होना चाहिए।

‘मन में पीड़ा है’

लेकिन गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा की पत्नी और पुत्र कोरोना पॉजीटिव रह चुके है। लिहाजा गृह मंत्री वेक्सीनेशन वॉलेंटियर एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया के अनुसार वॉलेंटियर नहीं बनाए जा सकते। दीक्षित ने ये भी कहा कि गृह मंत्री ने आगे बढ़कर हौसला अफजाई की है। वहीं बहुत इच्छा थी कि कोरोना वैक्सीन के ट्रायल में वॉलंटियर बनूं और इसके माध्यम से समाज के लिए कुछ करूं। वैक्सीन ट्रायल के लिए ICMR के एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया में फिट नहीं बैठ सका इसकी मन में बहुत पीड़ा है।

यह भी पढ़ें : मुठभेड़ में मारा गया साइको किलर, 5 पुलिसकर्मी घायल

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मानी गलती, कांग्रेस ने कसा तंज
Don`t copy text!