Bhopal Crime News: किसान नेता को पुलिस ने जबरिया हिरासत में लिया

Share

Bhopal Crime News: खबर शहर में फैली तो पुलिस मीडिया से ही सबूत मांगने लगी, दबाव पड़ने पर छोड़ा

Bhopal Crime News
पुलिस से झूमाझटकी में जख्मी बेटे के जख्म दिखाते किसान नेता अनिल यादव

भोपाल। किसान बिल के खिलाफ दिल्ली में चल रहा आंदोलन मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) में शुरु न हो जाए इसलिए प्रशासन खौफ में हैं। आलम यह है कि किसान नेताओं के घर और बाहर सादी वर्दी में चौकसी की जा रही है। इतना ही नहीं मंगलवार रात एक किसान नेता को पूरे परिवार के साथ हिरासत में ले लिया गया। यह खबर शहर में फैली तो पुलिस के अधिकारी दिनभर मीडिया से सबूत मांगते रहे। देर शाम किसान नेता रिहा हुए तो उन्होंने पूरी सच्चाई मीडिया को बता दी।

नीलम पार्क में होना था प्रदर्शन

जानकारी के अनुसार भोपाल सीमा पर चौकसी बरती जा रही है। किसानों को प्रवेश करने नहीं दिया जा रहा है। ऐसा कांग्रेस नेताओं ने भी आरोप लगाया है। इधर, किसान नेताओं ने आरोप लगाया कि पुलिस ने प्रदर्शन से पहले ही उन्हें पूरे परिवार के साथ हिरासत में ले लिया गया। उनके ही मोबाइल और नंबरों से मैसेज दिए जाने लगे कि होने वाला प्रदर्शन निरस्त कर दिया गया है। हालांकि इन आरोपों पर डीआईजी सिटी इरशाद वली ने कहा कि यह झूठे हैं। ऐसा पुलिस ने नहीं किया है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस वर्दीधारी एसीपी ने भोपाल के लोगों को यह बोलकर माल बटोर लिया

किसान नेता की कहानी

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष अनिल यादव (Anil Yadav) ने द क्राइम इंफो को बताया कि मंगलवार रात मुझे गिरफ्तार किया गया। मेरे और परिवार के साथ गुंडों की तरह व्यवहार पुलिस ने किया। मेरे बेटे के साथ मारपीट की गई। इस आचरण को लोकतंत्र के खिलाफ बताते हुए उन्होंने संपूर्ण कार्रवाई की निंदा की। अनिल यादव ने बताया कि मुझे 22 घंटे तक पुलिस ने बिना वजह थाने में रखा। विरोध करने पर झूठे केस में फंसाने की धमकी देते रहे। उन्हें बुधवार शाम लगभग 6 बजे छोड़ा गया। इधर, कांग्रेस नेताओं को गिरफ्तार करने के बाद रिहा कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें:   Coronavirus : स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ IAS को हुआ कोरोना, 4 जमाती भी संक्रमित निकले

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!