पटवारी का सिंधिया पर निशाना ‘टाईगर जिंदा है तो ग्वालियर-चंबल में क्यों नहीं दिखता’

Share

सम्मान के लिए पार्टी छोड़ी तो अब क्यों दर-दर भटक रहे सिंधिया: जीतू पटवारी

Jitu Patwari
जीतू पटवारी, पूर्व मंत्री, मध्यप्रदेश

भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया अध्यक्ष और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी (Jitu Patwari) ने राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की इंदौर-उज्जैन यात्रा को लेकर तीखी प्रतिक्रिया दी है। जीतू पटवारी ने कहा कि सिंधिया जी ने कांग्रेस की सरकार गिराई तो उन्होनें भाजपा कार्यालय में सदस्यता ग्रहण करते हुए दो बातें कही थीं, एक कि ‘मैं सम्मान के लिए राजनीति करता हूँ और दूसरा जनसेवा मेरा प्रमुख लक्ष्य है, जो मेरी पारिवारिक विरासत है।’

सम्मान के लिए पार्टी छोड़ी थी

पटवारी के कहा कि फिर सिंधिया जी अगर सम्मान की बात के लिए आपने पार्टी छोडी थी तो अब आप क्यों दर-दर भटक रहे हैं। मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने से पहले दो प्रमुख चेहरे थे एक पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी और दूसरा सिंधिया जी। सिंधिया जी ने बताया कि मुझसे कहा गया कि सड़क पर आ जाओ तो मैं सड़क पर आ गया और सरकार को भी सड़क पर ले आए।

सड़क पर कब उतरेंगे

जीतू पटवारी ने कहा कि अतिथि शिक्षकों और अतिथि विद्वानों की लड़ाई लड़ने की बात कहने वाले सिंधिया आज तक सड़को पर नहीं आए। आज 68-69 हजार अतिथि शिक्षकों को पिछले 3-4 महिनों से वेतन नहीं मिला। करीब 65 लोगों की आत्महत्या के आंकड़े आए है। लेकिन सिंधिया के मुंह से एक शब्द भी नहीं निकला। उन्होनें एक दिन कहा कि टाइगर अभी जिंदा है, तो पिछले पांच महिनें में आज तक ग्वालियर-चंबल जनसेवा के लिए टाइगर क्यों नहीं गया और जंगलराज में आज आए है इंदौर-उज्जैन के दौरे पर?

यह भी पढ़ें:   ‘विरोध के डर से 6 महीने से ग्वालियर नहीं गए सिंधिया, 1857 का इतिहास दोहराया है’

बिजली बिल और पेट्रोल-डीजल

पटवारी ने कहा कि आप आंकलन कीजिए कि बिजली का बिल कितना आता था और अब कितना आ रहा है। वहीं दूसरे राज्यों में पेट्रोल-डीजल के दाम में टैक्स घटाया जा रहा है। लेकिन मध्य प्रदेश सरकार इस पर कोई ध्यान नहीं दे रही है।

यह भी पढ़ेंः राज्यमंत्री को ग्रामीणों ने घेरा, जमकर हुए बहस, देखें वीडियो

Don`t copy text!