Bhopal Road Mishap: दो बार मौत ने दी दस्तक, एक सप्ताह बाद साथ ले गई

Share

Bhopal Road Mishap: भोपाल की हैरान कर देने वाली दुर्घटना में मौत की कहानी

Bhopal Road Mishap
दुर्घटना में मृत सुखदेव

भोपाल। राजेश खन्ना और अमिताभ बच्चन अभिनीत फिल्म आनंद आपको याद होगी। इस फिल्म में एक दृश्य हैं, जिसमें राजेश खन्ना कहते हैं कि ‘बाबू मोशाय जिंदगी और मौत उपर वाले के हाथ है जहांपनाह इस न तो आप बदल सकते हैं और न मै…..।’ बेहद भावुक कर देने वाली यह कहानी मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Road Mishap) की है। मामला एक दो दिन के भीतर में हुए अलग—अलग सड़क दुर्घटनाओं (Bhopal Road Accident) का है। जिसमें एक ही व्यक्ति जख्मी हुआ था। पहली बार स्कूटी में हुए हादसे से उसको अंदरुनी चोटें आई थी। इन्हीं चोटों का इलाज करने वह दो दिन बाद कार से परिवार के साथ वैद्य को दिखाने जा रहा था। चलते—चलते अचानक कार पलट गई और सभी लोग जख्मी हुए। परिवार के सारे सदस्य जख्मी हुए थे। लेकिन, विधि के लिखे विधान को पहले जो मंजूर था वही हुआ।

सरकारी दफ्तर से हुआ था रिटायर

परवालिया थाना पुलिस ने बताया सुखदेव मालवीय (Sukhdev Malviya) पिता भगवान मालवीय उम्र 63 साल की मौत हुई है। जांच अधिकारी एएसआई हेमंत सिंह (ASI Hemant Singh) ने बताया सुखदेव नेत्रालय अस्पताल के पास गुलमोहर त्रिलंगा के रहने वाले थे। वह सरकारी दफ्तर में कार्यरत थे। दफ्तर से एक साल पहले ही वह रिटायर्ड हुए थे। एक सप्ताह पहले 29 अक्टूबर को सुखदेव का थाना शाहपुरा इलाके में स्कूटी से टकरा गए थे। टक्कर में उन्हें अंदरूनी चोटें आई थी। इसका इलाज कराने के लिए सुखदेव दो दिन बाद परिवार के साथ श्यामपुर कार से जा रहे थे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime Case: पुराने केस को वापस लेने की बात पर व्यक्ति को पीटा

यह भी पढ़ें: इस वर्दीधारी के दिल्ली एसीपी कनेक्शन को खंगाल नहीं पा रही पुलिस, जबकि भोपाल के लोगों को है इसकी तलाश, जानिए क्यों

ऐसे पलटी थी कार

जांच अधिकारी ने बताया सुखदेव कार की सामने वाली सीट पर बैठे थे। कार कोई और व्यक्ति चला रहा था। श्यामपुरा से सभी लोग लौट रहे थे। अचानक मुगालिया जोड़ पर कार पलट गई। कार में बैठे सभी लोग को गंभीर चोट आई थी। सुखदेव को भी गर्दन और सिर में अंदरूनी चोट लगी थी। सभी को नर्मदा अस्पताल में भर्ती कराया था। इलाज के दौरान गुरूवार रात साढ़े ग्यारह बजे डॉक्टरों ने सुखदेव को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव मर्चूरी में रखवा दिया है। उसके बेटे बाहर विदेश में नौकरी करते है। उनके आने के बाद ही पीएम होगा।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!