मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के लिए प्रशासन ने जुटाई 600 बसें, कांग्रेस ने उठाए सवाल

Share

भीड़ जुटाने के लिए प्रशासन का दुरुपयोग कर रही भाजपा- कांग्रेस

Shivraj in Sanver
शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री, फाइल फोटो

इंदौर। (Indore) मध्यप्रदेश उपचुनाव के मद्देनजर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे है। शिलान्यास, भूमिपूजन के तमाम कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। इन आयोजनों को सफल बनाने की जिम्मेदारी प्रशासन के कंधों पर नजर आती है। यहीं कारण है कि दो सरकारी आदेश जमकर वायरल हो रहे है। इंदौर कलेक्टर कार्यालय से जारी हुए आदेश बसों को अधिग्रहित करने और उनमें डीजल भरवाने के संबंध में है।

सांवेर में कार्यक्रम

26 सितंबर को सांवेर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सांवेर माइक्रो उदवहन सिंचाई योजना की शुरुआत करने पहुंचे। इस कार्यक्रम में मंत्री और सांवेर के संभावित भाजपा प्रत्याशी तुलसी सिलावट मौजूद रहे। इसी कार्यक्रम में ग्रामीणों को पहुंचाने के लिए इंदौर जिला प्रशासन ने 600 बसों का अधिग्रहण किया। साथ ही डीजल डलवाने के लिए भी आदेश जारी किए।

कांग्रेस का तीखा वार

Shivraj Sanver
जीतू पटवारी, पूर्व मंत्री, मध्यप्रदेश

इन आदेशों को पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि- मात्र अपनी झूठी वाहवाही के चक्कर में भीड़ इकट्ठी करने के लिये हजारों बसें अधिग्रहित की जाना, कोरोना काल में लाखों लोगों/महिलाओं/बच्चों की जान से खेलना है..। – डूब रही सत्ता को बचाने के लिए शिवराज जी प्रदेश को शवराज बना रहे हैं..।

दूसरे ट्वीट में जीतू पटवारी ने कहा कि – इंदौर में मुख्यमंत्री के राजनैतिक कार्यक्रम में शासकीय डीजल डालने का आदेश प्रशासन ने निकाला है..। झूठी वाहवाही के चक्कर में कोरोनकाल में आमजन के जीवन को संकट में डाल रहे है, मैं इसकी सख्त भर्त्सना करता हूँ..।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Minor Murder: डीएनए रिपोर्ट की वजह से असली और नकली आरोपी में फंसी पुलिस

जबरन बसों में बैठाया

वहीं एक वीडियो कांग्रेस आईटी सेल के नेता अनिल मरमट ने भी शेयर किया है। उनका कहना है कि वीडियो में भाजपा कार्यकर्ता, ग्रामीणों को जबरदस्ती बस में बैठा रहे है। कोई सीएम शिवराज को सुनना नहीं चाहता, लेकिन भाजपा कार्यकर्ता भीड़ जुटाने के लिए जबरन लोगों को बस में बैठाते नजर आए रहै है। वहीं कांग्रेस का एक और गंभीर आरोप है कि इस परियोजना का पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पहले ही शिलान्यास कर चुके है। उस कार्यक्रम में भी तब के मंत्री तुलसी सिलावट मौजूद थे। चुनाव के चलते दोबारा शिलान्यास किया जा रहा है।

देखें वीडियो

साँवेर विधानसभा के ग्राम पंचायत बरलाई झांगीर में बीजेपी कार्यकर्ताओं को रैली में ले जाने के लिए लोग नहीं मिल रहा है जबरदस्ती पकड़ पकड़ कर लोगों को बस में ले जाने का काम कर रहे हैं।#sanwer

Gepostet von Anaam Vidrohi am Freitag, 25. September 2020

यह भी पढ़ें: दो दिन में आएगी कांग्रेस की दूसरी लिस्ट, कमलनाथ ने ये कहा

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः बलराम तालाब के नाम पर मध्यप्रदेश में बड़ा घोटाला, अधिकारियों के साथ किसान भी आरोपी

यह भी पढ़ें:   MP Fraud Case: भगवान राम का नाम लेकर जालसाजों ने किया उसको बदनाम
Don`t copy text!