MP STF News: दिलीप बिल्डकाॅन की पंद्रह शिकायतों में से एक केस का खुलासा

Share

MP STF News: देश की बड़ी कंपनियों के चेक क्लोन करके एनजीओ के नाम पर भुनाने वाले गिरोह के 10 जालसाजों को दबोचा

MP STF News
गिरोह का खुलासा करते एसपी एसटीएफ नवीन कुमार चौधरी

भोपाल। मध्य प्रदेश (MP STF News) की राजधानी भोपाल में स्थित स्पेशल टास्क फोर्स की इकाई ने एक 10 सदस्यीय गिरोह का खुलासा किया है। यह गिरोह देशभर में बड़ी कंपनियों को अपना निशाना बनाता था। कंपनियों के सोशल एक्टिविटी फर्म के नाम पर एनजीओ की मदद से फर्जीवाड़ा करने का काम गिरोह करता था। इसके लिए वह क्लोन का चेक बनाता था। ऐसे 15 मामले दिलीप बिल्डकाॅन ने भोपाल एसटीएफ (Bhopal STF News) में दर्ज कराए है। जिसमें से पहले मामले का खुलासा भोपाल एसटीएफ ने किया है।

पंजाब की इस बैंक में लगा था चैक

गिरोह का खुलासा करते हुए भोपाल एसटीएफ एसपी नवीन कुमार चौधरी (SP Navin Kumar Choudhary) ने बताया कि पंजाब में स्थित माल रोड अमृतसर की आईडीएफसी शाखा में दिलीप बिल्डकाॅन कंपनी (Dilip Buildcon News) का एक चैक लगा था। इस चैक में करीब 24 करोड़ रूपए की रकम भरी हुई थी। यह घटना फरवरी, 2020 में हुई थी। ऐसे ही करीब एक दर्जन से अधिक मामले एक-एक करके दिलीप बिल्डकाॅन पहुंचने लगे। जिसके बाद एसटीएफ में मुकदमा दर्ज किया गया। इस मामले की जांच तकनीक से की गई। जिसके बाद 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। मामले की जांच एसटीएफ टीआई सुभाष दरश्यामकर (TI Subhash Darshayamkar) को सौंपी गई थी।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

यह आरोपी हुए गिरफ्तार

भोपाल एसटीएफ ने इस मामले में पंजाब के अमृतसर निवासी आरोपी मनमीत सिंह, बरिन्दर सिंह, मोहाली निवासी सतनाम सिंह, परविन्दर सिंह, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद निवासी अंशुल राणा, जितेन्द्र सैनी, लखनउ गोमती नगर शिवम यादव, दिल्ली शास्त्री नगर निवासी दीपक कुमार सिंह, विकास कुन्द्रा और पंजाब होशियारपुर निवासी चरनजीत सिंह को गिरफ्तार किया गया है। सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। एसपी ने बताया कि दिलीप बिल्डकाॅन की अन्य प्रकरण की भी जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal DIG System News: भोपाल में कोई आईपीएस एसपी नहीं रहना चाहता, उसकी यह है खास वजह

चूना भट्टी वाली जांच बंद

MP STF News
सांकेतिक चित्र

इससे पहले 2020 में भोपाल शहर के चूना भट्टी थाने में जालसाजी का प्रकरण दर्ज किया था। जिसकी जांच एसटीएफ को सौंपी गई थी। इस मामले के आरोपी को मणिपुर पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। अब इस प्रकरण में भोपाल एसटीएफ ने खात्मा लगा दिया है। एसटीएफ का कहना है कि इस प्रकरण से जुड़ी जांच मणिपुर में पहले से ही चल रही है। इसलिए मामले में खात्मा लगाया गया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!