Bhopal Attempt To Murder : चाकू घोंपकर आंते बाहर निकाल दी

Share

Bhopal Attempt To Murder : जानलेवा हमले में पिता—पुत्र समेत तीन जख्मी, आरोपी चार भाईयों ने दिया वारदात को अंजाम

Bhopal Attempt To Murder
सांकेतिक चित्र

भोपाल। चाकू घोंपकर (Bhopal Knife Stabbed) एक व्यक्ति की आंते बाहर निकाल दी गई। उसको बचाने आए भाई और पिता को भी चाकू मार (Bhopal Attempt To Murder) दिया गया। यह दिल दहला देने वाली घटना मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) की है। इस जानलेवा हमले में माता—पिता समेत चार लोग जख्मी (Bhopal Knife Stabbed Injured) है। विवाद की वजह जख्मी माता—पिता की बेटी को लेकर था। बेटी से उसके पति का पानी को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद बेटी ने अपने परिवार वालों को ससुराल वालों ने बुलाया था। हमले के मामले में आरोपी फरार बताए जा रहे हैं।

अस्पताल से ​मिली थी सूचना

पिपलानी थाना पुलिस को कंट्रोल रुम से 9 जुलाई की सुबह आठ सूचना मिली थी। इस सूचना पर हथाई खेड़ा पठार (Hathikheda Pathar Me Chakubaji) में पुलिस की टीम पहुंची। वहां से पता चला कि जख्मी लोगों को गायत्री अस्पताल (Gaytri Hospital) में भर्ती कराया गया है। वहां पहुंचकर पुलिस ने जख्मी मनोज राठौर (Manoj Rathore) पिता राजू राठौर उम्र 30 निवासी सीहोर की शिकायत पर प्रकरण दर्ज किया। पुलिस ने इस मामले में धारा 324/307/294/506/34 (धारदार हथियार से चोट पहुंचाना, जानलेवा हमला, गाली—गलौज, जान से मारने की धमकी) और एक से अधिक आरोपी के तहत प्रकरण दर्ज किया है। आरोपी राजाबाबू, नरेन्द्र, औंकार और राजेन्द्र को बनाया गया है।

यह भी पढ़ें : पत्नी को लगा पति अगवा कर ले जा रहा है बच्चा तो फिर क्या हुआ जानिए

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cyber Fraud: अब सोच रहे हैं, काश बैंक ही चले जाता

इसलिए किया हमला

मामले के जांच अधिकारी एएसआई कुशलेन्द्र सिंह (ASI Kushlendra Singh) ने बताया कि जख्मी मनोज राठौर (Manoj Rathore) के बयान दर्ज किए गए। उसने बताया कि उसकी बहन भारती (Bharti) की शादी औंकार (Aunkar) से 13 साल पहले हुई थी। भारती का मायका ग्वाल टोली डोबर में हैं। मनोज पुताई का काम करता है। शादी के बाद से औंकार का परिवार भारती को परेशान कर रहा था। दो दिन पहले भी भारती का फोन आया था। इसलिए मनोज राठौर, भाई शिवम राठौर (Shivam Rathore Knife Attack Case), पिता राजू राठौर (Raju Rathore) और मां गोमती (Gaumati Rathore) के साथ भारती से मुलाकात करने आए थे।

यह भी पढ़ें : इस दोहरे हत्याकांड की वजह से प्रदेश के एक मंत्री को थाने जाना पड़ा

रात सब ठीक रहा

परिवार 8 जुलाई की रात 11 बजे हथाई खेड़ा पठार आया था। वहां बातचीत के बाद परिवार में सुलह हो गई थी। लेकिन, सुबह भारती के देवर राजेन्द्र और नरेन्द्र गालियां देने लगे। जब विरोध किया गया तो राजेन्द्र (Rajendra) और नरेन्द्र (Narendra) ने शिवम को दबोच लिया। राजा बाबू ने छुरी निकालकर शिवम के पेट में घोंप दी। जिसके कारण उसकी आंत बाहर आ गई। यह देखकर मनोज बचाने गया तो उसकी पीठ पर राजाबाबू (Rajababu) ने चाकू मार दिया। पिता राजू राठौर बचाने आया तो उसको भी पेट में चाकू मार दिया।

चारों तरफ खून के छींटे

भारती जब बचाने आई तो उसके पति ने उसको लाठी—डंडों से पीटकर जख्मी कर दिया। इसके बाद चारों आरोपी राजाबाबू, नरेन्द्र, औंकार और राजेन्द्र भाग गए। घायलों का गायत्री अस्पताल (Bhopal Gaytri Hospital) में इलाज चल रहा है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों की अभी गिरफ्तारी की जाना बाकी है। पुलिस उनके संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। इधर, शिवम राठौर की हालत हमले में नाजुक बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Rape Case: गौ रक्षा समिति के सदस्य पर बलात्कार का मुकदमा दर्ज

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!