सीएम शिवराज ने गुपकार गठबंधन को बताया ‘गद्दार’, कांग्रेस से पूछे सवाल

Share

पंडित नेहरू ने सत्ता पाने की जल्दबाजी में विभाजन कराया – सीएम शिवराज

Shivraj Singh Chouhan
भाजपा कार्यालय में प्रेस वार्ता करते सीएम शिवराज

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने जम्मू और कश्मीर में बने गुपकार संगठन (Gupkar Alliance) पर सवाल उठाए है। जम्मू-कश्मीर की तमाम पार्टियों के इस गठबंधन को देशद्रोही बताते हुए सीएम शिवराज ने कांग्रेस से सवाल पूछे। शिवराज ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी और युवराज राहुल गांधी बताए कि क्या वो गुपकार गठबंधन में शामिल है। धारा 370 और 35 ए को हटाए जाने पर कांग्रेस का क्या दृष्टिकोण है।

एंटी नेशनल है गुपकार गठबंधन

सीएम शिवराज ने कहा कि ‘जम्मू-कश्मीर में गुपकार संगठन बना है। 8 दलों ने एक होकर बनाया है। अब इसकों मैं गुपकार संगठन कहूं या एंटी नेशनल एलायंस। इसमें शामिल नेता राष्ट्रविरोधी बयान देते है। फारुख अब्दुल्ला ने एक टीवी पर कहा था कि हम चीन की मदद से धारा 370 की वापसी कराएंगे। 23 अक्टूबर को महबूबा मुफ्ती बोलती है कि हम उस वक्त तक तिरंगा नहीं उठाएंगे जब तक हमारे कश्मीर का झंडा वापस नहीं मिल जाता। राहुल गांधी ने धारा 370 को हटाने पर देश को खतरा बता दिया था।’

पंडित नेहरू ने कराया विभाजन

‘पंडित जवाहर लाल नेहरू ने सत्ता जल्दी प्राप्त करने के लिए देश का विभाजन कराया। नेहरू ने ही कश्मीर में धारा 370 लागू कराई। नेहरू ने ही एक देश में दो निशान, दो प्रधान बनाए और कश्मीर को देश में शामिल नहीं होने दिया। नेहरू ही कश्मीर के मुद्दे को यूएनओ में ले गए। जबकि ये देश का आंतरिक मुद्दा था।’

यह भी पढ़ें:   Bhopal Robbery: लॉक डाउन के बावजूद सूने मकानों के ताले टूटे

चीन की जासूसी करते हैं

सीएम शिवराज ने कहा कि ये गुपकार नहीं गुप्तचर संगठन है। ये लोग चीन के लिए जासूसी करते है। गुपकार संगठन के नेताओं ने 25 हजार करोड़ की जमीन हड़प ली। नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी के नेताओं के बच्चे विदेशों में पढ़ते है और कश्मीरी बच्चों के हाथों में पत्थर पकड़ा दिए। आज सब देशद्रोह की भाषा बोल रहे है। कांग्रेस इनमे शामिल है।

कांग्रेस 370 के साथ

कश्मीर के कांग्रेस नेता ने बयान दिया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से धारा 370 वापस लागू कराएंगे। शिवराज ने कहा कि कांग्रेस ये कह रही है कि गुपकार का हिस्सा नहीं है। लेकिन वो हिस्सा है। कांग्रेस उनके साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है। कांग्रेस हमेशा से देशद्रोही ताकतों का साथ देती रही है। पी चिदंबरम और गुलाम नबी आजाद खुलेआम कह रहे है कि धारा 370 बहाल होना चाहिए। फारुख अब्दुल्ला ने भी कहा था कि कांग्रेस गुपकार का हिस्सा है। जिला विकास परिषद के चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘मैं सवाल पूछना चाहता हूं कि धारा 370 के बारे में सोनिया गांधी को अपना दृष्टिकोण स्पष्ट करना चाहिए। धारा 370 और 35 ए को हटाने के पक्ष में वो दो मुंही बातें क्यों कर रहे है। आतंकियों के साथ क्या रिश्तें है। दिग्विजय सिंह क्यों आतंकियों के साथ खड़े है।

धारा 370 हटने के बाद अब्दुल्लाओं, मुफ्तियों और गांधीयों के परिवार की दुकान बंद हो गई है। अब कश्मीरी खुली हवा में सांस ले रहे है। जम्मू और कश्मीरियों के जहन में फिर से जहर घोला जा रहा है। इन प्रयासों में कांग्रेस साथ खड़ी दिख रही है। कांग्रेस को बताना चाहिए कि वो गुपकार संगठन के साथ है या नहीं।

यह भी पढ़ें:   Girl Child Murder : डेढ़ साल की बच्ची से लिया पड़ोसन का बदला, पानी में डुबोकर की हत्या

सीबीआई कर रही जांच

हजारों करोड़ के जमीन घोटाले की जांच सीबीआई कर रही है। जांच की आंच गुपकार तक पहुंची तो ये संगठन बनाया गया। नेहरू ने ऐतिहासिक भूल की थी। हमने वादा किया था कि पूर्ण बहुमत में आएंगे तो 370 खत्म करेंगे। भाजपा का किसी भी एंटी नेशनल पार्टी के साथ गठबंधन नहीं रहेगा।

यह भी पढ़ेंः दूसरी शादी से किया इनकार तो काट दी नाक

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!