17 साल की लड़की से 6 दरिंदों ने किया बलात्कार, दोस्त से मिलने गई थी

Share

लिफ्ट देने के बहाने कार में बैठाया था, सोशल मीडिया पर उठी न्याय की मांग

Tripura Gang Rape
पुलिस गिरफ्त में आरोपी

अगरतला। त्रिपुरा (Tripura) के खोवाई (Khowai) जिले से नाबालिग के सामूहिक बलात्कार (Minor Gang Rape) का सनसनीखेज मामला सामने आया है। 17 साल की लड़की अपने दोस्त से मिलने गई थी। वहां से लौटते वक्त दरिंदों ने उसे घेर लिया और बारी-बारी से हवस का शिकार (Gang Raped) बनाया। पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक आरोपियों ने लिफ्ट देने के बहाने लड़की को कार में बैठाया था। जिसके बाद वो उसे सुनसान इलाके में ले गए और उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस ने लड़की के दोस्त समेत 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

फांसी दिए जाने की मांग

खोवाई के एसपी किरन कुमार ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि घटना 21 जुलाई की है। जब पीड़िता अपने दोस्त से मिलने खासियामंगल इलाके में गई थी। पुरुष मित्र से मिलने के बाद लड़की अपने घर की तरफ लौट रही थी। उसी दौरान बदमाशों ने उसे बहाने से कार में बैठा लिया था। 17 साल की लड़की से गैंगरेप की इस घटना का विरोध शुरु हो गया है। आरोपियों को फांसी दिए जाने की मांग की जा रही है।

गृहणी से बलात्कार

त्रिपुरा में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते क्राइम को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरु हो गया है। नाबालिग से गैंगरेप की घटना के साथ-साथ 30 वर्षीय गृहणी के बलात्कार और 8 साल बच्चे से यौन उत्पीड़न का भी मामला सामने आया है। एक साथ तीन गंभीर मामले सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर कैंपेन चलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें:   चलती बस में लगी आग, 5 लोग जिंदा जले

गृहणी के साथ बलात्कार की घटना कराईलोंगपारा गांव से सामने आई है। जहां 30 वर्षीय गृहणी के साथ मोहल्ले में ही रहने वाले 21 वर्षीय युवक ने दुष्कर्म किया। पुलिस जांच में आरोपी की एक और करतूत का खुलासा हुआ। पीड़िता के घर के ही एक बच्चे का भी आरोपी यौन शोषण करता था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

सोशल मीडिया पर उठी मांग

इन घटनाओं के खिलाफ पीजी की छात्रा अशमिरा देब्बारमा ने सोशल मीडिया पर कैंपेन शुरु किया है। अशमिरा की मांग है कि दोषियों को फांसी दी जानी चाहिए। केस को 5-10 साल घसीटा नहीं जाना चाहिए। फास्ट ट्रेक कोर्ट में मामले की सुनवाई होनी चाहिए।

वहीं त्रिपुरा महिला आयोग की अध्यक्ष बरनाली गोस्वामी ने घटनाओं की निंदा की है। उन्होंने कहा कि तीनों घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों को लेकर राजनीति नहीं की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ेंः पति को पेड़ से बांधकर आदिवासी महिला से गैंगरेप

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!