बिना स्कूल गए 13 साल की उम्र में ही पास कर ली 12 वीं की परीक्षा

Share

तनिष्का ने पूरा किया पिता का सपना, लेकिन वो देख न सके

Tanishkka Sujit Chandran
तनिष्का सुजीत चंद्रन, होनहार छात्रा, फाइल फोटो

इंदौर। मध्यप्रदेश की एक बेटी ने कमाल कर दिया है। इंदौर (Indore) की तनिष्का (Tanishkaa Sujit Chandran) ने महज 13 साल की उम्र में ही 12 वीं की परीक्षा पास कर ली। सोमवार को जारी हुए 12 वीं के रिजल्ट में तनिष्का को कॉमर्स संकाय में 62.8 फीसदी अंक मिले है। ऐसा कारनामा करने वाली तनिष्का मध्यप्रदेश की पहली छात्रा बन गई है। तनिष्का ने अपने पिता और शिक्षक सुजीत चंद्रन (Sujit Chandran) का सपना पूरा किया। लेकिन सुजीत चंद्रन इस खुशी के लम्हे को जी न सके। 2 जुलाई को कोरोना के चलते सुजीत की मौत हो गई थी।

छोड़ दिया था स्कूल

छात्रा के पिता सुजीत चंद्रन का मानना था कि स्कूल से अच्छी पढ़ाई घर पर ही हो सकती है। लिहाजा तनिष्का ने 2015 में ही स्कूल जाना छोड़ दिया था। महज 8 साल की उम्र में उसने स्कूल को गुडवाय कह दिया था। जिसके बाद उसके पिता सुजीत ही उसे पढ़ाते थे। होम स्टडी की दम पर पिछले साल ही तनिष्का ने 10 की परीक्षा पास की थी। वो प्रायवेट विद्यार्थी के तौर पर परीक्षाओं में शामिल हुई।

अधिकारियों से की मिन्नतें

महज 13 साल की उम्र में 12 वीं की परीक्षा देना इतना भी आसान नहीं था। सरकारी नियम तनिष्का के आड़े आ रहे थे। लेकिन उसके पिता सुजीत ने हार नहीं मानी। वो कई बार राजधानी भोपाल गए, अधिकारियों से मिन्नतें की। तब जाकर प्रायवेट विद्यार्थी के तौर पर तनिष्का को परीक्षा में बैठने का मौका दिया गया।

यह भी पढ़ें:   MP Honey Trap Case : युवा मोर्चा की महामंत्री थी श्वेता जैन, इंदौर के ‘कलाकार’ से थे करीबी संबंध

नर्सरी और केजी पढ़ी ही नहीं

तनिष्का का एडमिशन सीधे पहली कक्षा में हुआ था। तनिष्का की मां अनुभा चंद्रन ने न्यूज एजेंसी को बताया कि 3 साल की उम्र में तनिष्का का एडमिशन पहली कक्षा में हुआ था। 12 वीं में तनिष्का को इंग्लिश और हिंदी विषय में डिस्टिनशन भी मिला है।

तनिष्का का सपना

होनहार छात्रा तनिष्का भारतीय पुलिस सेवा की अधिकारी (IPS) बनना चाहती है। वो डांस में पीएचडी भी करना चाहती है। लेकिन इन सबसे पहले अगले साल ही वो बी कॉम फाइनल ईयर का एग्जाम देने की तैयारी में जुट गई है। अगर ऐसा करने में वो कामयाब रहीं तो 14 वर्ष की उम्र में तनिष्का ग्रेजुएट भी हो जाएगी।

यह भी पढ़ेंः मंत्री तुलसी सिलावट ने सिंधिया को बना दिया मुख्यमंत्री, सुनिए

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!