Bhopal Fake Contract : पूर्व सांसद के बेटे से धोखाधड़ी

Share

Bhopal Fake Contract: फर्जी डिजीटल सिग्नैचर करके हथिया लिया था मछली पालन का ठेका

Bhopal Beach Of Trust
Display

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस के पूर्व सांसद स्वर्गीय गुफरान—ए—आजम के बेटे के साथ 27 लाख रुपए की जालसाजी (Bhopal Fake Contract ) हुई है। आरोपी ने डिजीटल सिग्नैचर करके 27 लाख रुपया ठेका हथिया लिया थ। मामला कोलार डैम की मछली पालन (MP Fisheries Case) के ठेके से जुड़ा है। जिसकी एफआईआर टीटी नगर थाना पुलिस ने दर्ज की है।

ठेके का यह मतलब निकाला

Bhopal Fake Contract
सांकेतिक चित्र

टीटी नगर पुलिस के अनुसार फरहान अहमद (Farhan Ahmad) और हिमांशु वर्मा (Himanshu Verma) बिग जॉन्स नाम की कंपनी के डॉयरेक्टर हैं। फरहान अहमद पूर्व सांसद गुफरान-ए-आजम के बेटे हैं। उनकी कंपनी में कोलार डेम को ठेके पर लिया था। कंपनी डेम में मछली पालन कर उन्हें बेचने का काम करती है। कंपनी ने 1 जनवरी, 2019 को सीताराम उर्फ संतोष चौकसे (Sitaram @ Santosh Chouksey) से अनुबंध किया था। यह अनुबंध कोलार डैम से मछली निकालकर बेचने का हुआ था। लाभ दोनों के बीच आधा—आधा होना था। मछली बेचने पर मिली रकम को पहले कंपनी के बैंक खाते में जमा कराना शर्त थी। इस दौरान आरोपी ने करीब 27.50 लाख की मछली बाजार में बेच दी थी। जब एक साल तक पैसे नहीं दिए तो कंपनी ने आरोपी को नोटिस जारी किया।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में माफिया को दफनाने का दावा करने वाले मुख्यमंत्री को राजधानी के इन हालातों पर सवाल अफसरों से जरुर पूछना चाहिए

अब यह हुई एफआईआर

नोटिस के जवाब में आरोपी ने लिखा था कि वह खुद कंपनी का डॉयरेक्टर है। इसलिए वह रकम अपने पास रख सकता है। यह खुलासा होने के बाद जब हिमांशु और फरहान ने कंपनी की वेबसाइट पर देखा तो पाया कि आरोपी कंपनी का डॉयरेक्टर है। उसने डिजिटल सिग्नेचर का इस्तेमाल कर डॉयरेक्टर बन गया है। इस मामले को लेकर फरियादी पक्ष ने सीएसपी को आवेदन दिया था। उसकी जांच के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया। पुलिस ने इस मामले में 25 फरवरी की शाम लगभग 7 बजे (धारा 420/467 जालसाजी और दस्तावेजों) की कूटरचना का प्रकरण दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suspicious Death: आग से झुलसे व्यक्ति की मौत

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!