UP Gang Rape: पुलिस की नीली बत्ती वाहन से अगवा कर छात्रा से ज्यादती

Share

आरोपी पूर्व जेलर और सीआरपीएफ जवान के नाबालिग बेटे निकले, चार आरोपी किए गए गिरफ्तार

Uttar Pradesh Rape case
सांकेतिक फोटो

मिर्ज़ापुर। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में नाबालिग(Minor Gang Rape) छात्रा का पुलिस की नीली बत्ती लगी गाड़ी से अगवा कर लिया गया। फिर छात्रा के साथ चार लोगों ने बलात्कार(Uttar Pradesh Gang Rape) किया। चारों आरोपियों में पूर्व जेलर का बेटा और सीआरपीएफ जवान शामिल है। पीड़िता के पिता की शिकायत के बाद गैंग रेप (Crime Against Minor) में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस ने बताया कि वाराणसी में रिटायर्ड जेलर बृजलाल की बेटी की शादी हलिया के एक गांव में हुई है। बृजलाल का बेटा जय प्रकाश मौर्य (Jai Praksh Mourya) बहन के यहां आता-जाता रहता था। इसी दौरान जय प्रकाश की नाबालिग (Crime Against Minor) से पहचान हुई थी। दोनों आपस में फोन पर बात करते थे। उसके बाद जयप्रकाश ने बेटी को अपने चार साथियों के साथ घर से बाहर घुमने का बोलकर उसको ले गया था। जिसे वह पुलिस की नीली बत्ती वाली गाड़ी में ले गया था। कुछ दुर सुनसान में ले जाकर उन्होंने बेटी के साथ बलात्कार (UP Gang Rape) किया। जिसके बाद उन्होंने बेटी को किसी को भी कुछ ना बताने का दबाव बनाया था। उसके बाद चारों आरोपियों ने बेटी को घर पर लाकर छोड़ दिया था।

घर पर आने के बाद पीड़िता ने पिता को सारा घटना क्रम बताया था। पुलिस ने गैंग रेप (Mirjapur Gang Rape) में शामिल चारों अपराधियों को हिरासत में ले लिया है। जिसमें जयप्रकाश इन दिनों जिगना थाना क्षेत्र के छोटी सिहावल गांव में ही रहता है। उसके अन्य तीन साथी में महेंद्र कुमार यादव सीआरपीएफ सुल्तानपुर में तैनात है। तीसरा युवक गणेश प्रसाद लम्बी पट्टी और लव कुश कुमार पाल यादवपुर जिगना थाना क्षेत्र का निवासी है। पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें:   चार दिन भी नहीं चला प्रेम विवाह, जोड़े ने किया सुसाइड
Don`t copy text!