Dehradoon Brutal Murder: Serial देखकर बहनों ने की भाई की हत्या

Share

सीसीटीवी फुटेज से सामने आया सच, शव को गंगा नदी में फेंका

Uttrakhand Brutal Murder Case
सांकेतिक फोटो

देहरादून। उत्तराखंड (Uttar Pradesh Crime) में दो बहनों ने अपने दो साल के भाई की बेरहमी से हत्या (Minor Killing) कर दी। हत्या की साजिश टीवी सीरियल देखकर (Crime Petrol) तैयार की थी। सीसीटीवी फुटेज की मदद से इस हत्या (Sister Killing Brother) कांड का सच सामने आया है। दोनों बहनों ने अपना गुनाह कबूल लिया है। बहनों ने भाई को मारने से पहले नींद की गोली देकर बेसुध किया फिर गंगा नहर में फेंक(Uttrakhand Brutal Murder) दिया था।

पुलिस ने बताया कि घटना मोक्ष नगरी हरिद्वार (Haridwaar Minor Killing) ज्वालापुर इलाके की है। यहां दो साल का बच्चा गुम हो गया था। पुलिस का ध्यान दोनों बच्चियों की तरफ गया ही नही था। मृतक की मां का कहना था कि उसकी जेठानी उसके बच्चे को उठा ले गई है। उसने ही बच्चे की जान ली है। पुलिस ने जेठानी को हिरासत में लेकर बच्चे की गुमशुदगी को लेकर पूछताछ की। हालांकि पुलिस को इसमें कोई कामयाबी हासिल नही हुई थी। उसके बाद पुलिस ने इलाके के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने शुरू किए। जिसे देखकर पुलिस भी हक्की—बक्की रह गई थी। उसने मृतक की दोनों बहनों को घटना वाली जगह पाया। एक बहन साईकल से थी। दूसरी हाथ में झोला लिए साथ चल रही थी। जिसके बाद दोनों से पुलिस ने पूछताछ शुरू की। बहनों ने बताया कि वह भाई के कारण बहुत परेशान थी। घर में मम्मी—पापा हम दोनों को प्यार नहीं करते थे। उस भाई को ही प्यार करते है। इसलिए हमने टीवी पर क्राईम पेट्रोल(Crime Petrol) देखकर भाई को नींद की गोली देकर सुला दिया था।

यह भी पढ़ें:   Uttarakhand Political Crisis: भाजपा के लिए "धामी" कहीं "धीमा" जहर तो नहीं

जिसके बाद हमने उसे गंगा नदी में ले जा कर फेंक दिया था। पुलिस ने दोनों नाबालिग बहनों को हत्या (#Sister Killing Brother) के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी नाबालिग है इसलिए उन्हें बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। फिलहाल बच्चे का शव पुलिस को नहीं मिला है।

Don`t copy text!