Uttar Pradesh Gang Rape: Unnao में Rape पीड़िता को जिंदा जलाया

Share

हैदराबाद का पार्ट—2, लड़की को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया, गवाही पलटने के लिए डाल रहे थे दबाव, सभी पांच आरोपी गिरफ्तार, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ऐलान सरकारी खर्च में होगा पीड़िता का इलाज, विपक्ष ने कानून—व्यवस्था पर सवाल खड़े किए

 

Uttar Pradesh Gang Rape
वो घटना स्थल जहां रेप ​पीड़िता को पेट्रोल डालकर जलाया गया

लखनऊ। देशभर में हैदराबाद (Hyderabad) की वेटरनरी डॉक्टर प्रियंका रेड्डी (Doctor Priyanka Reddy) की ज्यादती के बाद जिंदा जला देने को लेकर गुस्सा शांत नहीं हुआ है। इस बीच वैसे ही घटना उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh Crime) के उन्नाव (Unnao Crime) जिले में हो गई। यहां रेप पीड़िता (Unnao Rape) को पांच आरोपियों ने मिलकर उसको जिंदा जला दिया। इस घटना के बाद उत्तर प्रदेश (#Uttar Pradesh) सरकार विपक्ष समेत देशभर के नागरिकों के निशाने पर आ गई। इस दरिंदगी के खिलाफ उपजे गुस्से को देखते हुए उत्तर प्रदेश (@Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ (Chief Minister Yogi Aditya Nath Yogi) सामने आए। उन्होंने कहा कि सरकार पीड़िता के इलाज का खर्च उठाएगी। पुलिस ने सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि उन्नाव (Unnao Gang Rape) जिले के गौरा मोड़ के पास गुरूवार सुबह गैंगरेप (#Unnao Gang Rape) पीड़िता को आरोपियों ने जिंदा जला दिया। पीड़िता को मुकदमे की तारीख पर रायबरेली (Raebareli) जाना था। जिसके लिए वह घर से रेल्वे स्टेशन के लिए निकली थी। मौके की तलाश में बैठे सभी आरोपी पीड़िता के घर से निकलने का इंतजार कर रहे थे। उसके निकलते ही गांव के हरिशंकर त्रिवेदी, किशोर, शुभम, शिवम, और उमेश ने उसे अकेला पाकर उसे घेर लिया। आरोपी हरिशंकर ने पीड़िता के सिर डंडा मारा। किशोर ने गले पर चाकू से वार कर दिया। जिससे पीड़िता घटना स्थल पर ही गिर गई। हरिशंकर ने उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। पीड़िता के शोर मचाने पर गांव के लोगों को आता देख सभी आरोपी मौके से भाग निकले। लोगों की मदद से उसे जिला फिर वहां से लखनऊ (Lucknow) के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया। लड़की करीब 80 फीसदी झुलस गई है। चिकित्सकों ने उसके बचने की उम्मीद कम जताई है।

आरोपियों को सख्त सजा
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh Crime) के डीजीपी ओम प्रकाश सिंह (DGP Om Prakash Singh) ने मीडिया को बताया कि पहले तीन आरोपियों को दबोच लिया गया। फिर बाद में दो आरोपी भी पकड़ लिए गए हैं। लखनऊ (#Lucknow) के अस्पताल में एक एडीजी की निगरानी में उसे रखा गया है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सभी आरोपियों को कड़ी सजा मिलेगी। इसमें पुलिस कोई कौताही नहीं बरतेगी। इधर, पुलिस के खिलाफ लोगों में काफी आक्रोश है। लोगों का कहना है कि यह कवायद पुलिस जो अब कर रही है उसको पहले करना चाहिए था। रेप पीड़िता (Unnao Gang Rape) को सुरक्षा मुहैया कराई जानी थी। सपा नेताओं ने इस घटना के खिलाफ उत्तर प्रदेश (#Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ योगी (#CM Yogi Aditya Nath Yogi) की नीतियों को जिम्मेदार ठहराया। उधर, सीएम योगी  (@CM Yogi Aditya Nath Yogi) ने कहा है कि पीड़ित परिवार के साथ सरकार और पुलिस प्रशासन खड़ा है। हमारी कोशिश है कि लड़की को बचाया जाए। इसके लिए जो भी खर्च आएगा उसका सरकार वहन करेगी।
प्रियंका का ट्वीट
इस मामले में जहां समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने सरकार को घेरा है। वहीं प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने भी ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) जिस प्रदेश के मुख्यमंत्री की पीठ कानून—व्यवस्था पर थपथपा रहे थे वहां के आज के हालात पर कुछ कहने की हिम्मत हैं। प्रियंका गांधी (#priyanka Gandhi) ने कहा कि भाजपा नेता (BJP Leader) फर्जी प्रचार करना बंद करें।
यह भी पढ़ें:   UP Crime: Battalion Constable ने सुसाइड किया, गड्ढ़े से बरामद हुआ शव
Don`t copy text!