Kanpur Gangster Encounter : विकास दुबे मारा गया

Share

Kanpur Gangster Encounter : कानपुर पुलिस का दावा दुर्घटना के बाद हथियार छीनकर भागने की कोशिश कर रहा था

Kanpur Gangster Encounter
विकास दुबे इस वाहन में सवार था जिसका पहिया पंक्चर हुआ और वह पलट गया

कानपुर। लगभग एक सप्ताह से उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttapr Pradesh Police Encounter News) के लिए चुनौती बना गैंगस्टर विकास दुबे (Kanpur Gangster Encounter) मारा गया। पुलिस का दावा है कि विकास दुबे (Vikas Dubey Encounter News) को ले जा रहा वाहन पलट गया था। जिसके बाद विकास दुबे हथियार छीनकर भागने की कोशिश कर रहा था। विकास दुबे को कमर और सीने में गोली लगी है। पुलिस ने मुठभेड़ (Kanpur STF Encounter News) होने का दावा किया है। इस मुठभेड़ में चार पुलिसकर्मी भी जख्मी बताए जा रहे हैं।

ऐसे हुआ एनकाउंटर

कानपुर एसटीएफ (Kanpur STF) के अनुसार मुठभेड़ शुक्रवार सुबह 7 से साढ़े सात बजे के बीच हुई थी। इस संबंध में कानुपर एसएसपी (Kanpur SSP) ने बयान देने के बाद फिर कोई जवाब नहीं दिया। जब एनकाउंटर हुआ उस वक्त भारी बारिश हो रही थी। विकास दुबे (Vikas Dubey Encounter News) की मीडिया में रिपोर्टिंग के बाद उसकी मां बेसुध हो गई। हैलट अस्पताल (Hellat Hospital) के बाहर पुलिस के अफसरों ने इस बात की पुष्टि की है। पुलिस ने बताया कि सीएसटी कल्याण में जख्मी सिपाही हैं।

पुलिस पर खड़े हो रहे थे सवाल

Vikash Dubey Arrest
महाकाल मंदिर में गार्ड राहुल यादव के साथ हिरासत में लेने के बाद गुरुवार सुबह की यह तस्वीर जो आज शुक्रवार सुबह बदल गई

मध्य प्रदेश के उज्जैन (Ujjain Vikas Dubey Arrest) जिले में गुरुवार सुबह लगभग 7 बजे महाकाल मंदिर में दर्शन के बाद विकास दुबे को हिरासत में लिया गया था। तभी से उसकी गिरफ्तारी पर सवाल खड़े हो रहे थे। सरेंडर या अरेस्ट इसको लेकर बहस चल रही थी। एमपी पुलिस ने ट्रांजिट रिमांड पर सौंपने की बात की। लेकिन, जैसे ही सवाल खड़े होने लगे तो शाम को यूपी बॉर्डर पर ले जाकर एसटीएफ को सौंप दिया।

यह भी पढ़ें:   UP Crime : Agra में कपड़ा व्यापारी की गोली मारकर हत्या

यह भी पढ़ें : यह साल दुनिया नहीं अपराधियों के लिए भी मुश्किल भरा रहा मटका का राजा अब नहीं रहा

मुठभेड़ से पहले मीडिया को रोका गया

विकास दुबे का एनकाउंटर कानपुर (Kanpur Vikas Dubey Encounter News) के नजदीक भौंती में हुआ। इस एनकाउंटर की सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन के अनुसार विधिवत जांच शुरु कर दी गई। विकास दुबे उत्तर प्रदेश के कई बड़े रसूखदारों की जानकारियां अपने सीने में दबाए हुआ था। उसको भागने के दौरान भी कई लोगों की मदद मिल रही थी। विकास दुबे डीएसपी समेत 8 पुलिसकर्मियों के साथ हत्या करने के बाद से फरार चल रहा था। खबर है कि विकास दुबे का बॉर्डर से ही कुछ मीडिया कर रहा था। इस मीडिया को मुठभेड़ से पहले वाली जगह पर रोका गया।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!