बदमाश को पकड़ने गई यूपी पुलिस पर फायरिंग, 8 पुलिसकर्मी शहीद, 7 घायल

Share

राजनीतिक रसूख भी रखता है विकास दुबे, घटना से मचा राजनीतिक हड़कंप

Kanpur Crime
विकास दुबे, गैंगस्टर

कानपुर । उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur)  से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है यहां चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों ने गोलियां बरसाईं इसमें सीओ बिल्हौर सहित 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं। एसओ बिठूर समेत 7 पुलिसकर्मियों के घायल होने की खबर है। सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस टीम बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई थी। विकास दुबे और उसके साथियों ने छतों से पुलिस टीम पर गोलियां बरसाईं और हमले के बाद पुलिस के असलहे भी लूट ले गए। एडीजी कानपुर जोन, आईजी रेंज एसएसपी कानपुर समेत भारी पुलिस फ़ोर्स मौके पहुंच गए हैं। विकास दुबे को पकड़ने के लिए एसटीएफ भी लगाई गई है।

घटना पर डीजीपी ने कहा कि हत्या के प्रयास मामले में दबिश देने गई टीम पर घात लगाकर फायरिंग हुई है एक सीओ, एक एसओ, एक चौकी इंचार्ज, 5 सिपाही शहीद हुए हैं 4 सिपाही घायल हैं, जिनमें एक गंभीर है. घायलों के उचित इलाज के निर्देश दिए गए हैं आरोपी 7-8 के करीब हो सकते हैं आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिए पड़ोसी जिलों की पुलिस को भी लगाया गया है आरोपी की गिरफ्तारी में एसटीएफ को भी लगाया गया है लखनऊ से एक फॉरेंसिक की टीम भी कानपुर जा रही है जिले की सीमाएं सीलउधर कानपुर देहात में एनकाउंटर के बाद जिले की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं पूरे गांव में पुलिस का सर्च ऑपरेशन जारी है।

यह भी पढ़ें:   Uttar Pradesh Brutal Murder: शादी के दूसरे दिन बाद भागी प्रेमी संग, प्रेमी शव लेकर पहुंचा थाने

घटना पर सीएम योगी का बयान

Kanpur Crime
जेसीबी अड़ाकर रोका था पुलिस का रास्ता

जनपद कानपुर में ‘कर्तव्य पथ’ पर अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले 08 पुलिसकर्मियों को भावभीनी श्रद्धांजलि। शहीद पुलिसकर्मियों ने जिस अपरिमित साहस व अद्भुत कर्तव्यनिष्ठा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन किया, उ.प्र. उसे कभी भूलेगा नहीं। उनका यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

राहुल गांधी का ट्वीट

यू.पी. में गुंडाराज का एक और प्रमाण। जब पुलिस सुरक्षित नहीं, तो जनता कैसे होगी? मेरी शोक संवेदनाएँ मारे गए वीर शहीदों के परिवारजनों के साथ हैं और मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।

प्रियंका गांधी ने ये कहा

बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी जिसमें यूपी पुलिस के सीओ, एसओ सहित 8 जवान शहीद हो गए। यूपी पुलिस के इन शहीदों के परिजनों के साथ मेरी शोक संवेदनाएं। यूपी में कानून व्यवस्था बेहद बिगड़ चुकी है, अपराधी बेखौफ हैं। …आमजन व पुलिस तक सुरक्षित नहीं है। कानून व्यवस्था का जिम्मा खुद सीएम के पास है। इतनी भयावह घटना के बाद उन्हें सख़्त कार्यवाही करनी चाहिए। कोई भी ढिलाई नहीं होनी चाहिए।

अखिलेश यादव का बयान

कानपुर की दुखद घटना में पुलिस के 8 वीरों की शहादत को श्रद्धांजलि! उप्र के आपराधिक जगत की इस सबसे शर्मनाक घटना में ‘सत्ताधारियों और अपराधियों ‘की मिलीभगत का ख़ामियाज़ा कर्तव्यनिष्ठ पुलिसकर्मियों को भुगतना पड़ा है. अपराधियों को जिंदा पकड़कर वर्तमान सत्ता का भंडाफोड़ होना चाहिए.

उप्र की भाजपा सरकार अपनी पोलपट्टी खुलने के डर से आनन-फ़ानन में मुख्य अपराधी को न पकड़कर छोटी-मोटी मुठभेड़ दिखाने का नाटक करवा रही है. इससे पुलिसकर्मियों का मनोबल और गिरेगा तथा पुलिस का आक्रोश भी बढ़ेगा. सरकार तुरंत मुआवज़ा घोषित करे व परिजनों को हर संभव संरक्षण दे. निंदनीय!

यह भी पढ़ें:   Uttar Pradesh Sex Racket: आयुर्वेदिक मसाज पार्लर की आड़ में चल रहे थे अड्डे
Don`t copy text!