IVA News: ग्रामीण अर्थ तंत्र में क्रांति ला सकता है पशुपालन

Share

IVA News: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का ऐलान पशुओं के लिए जल्द चलेगी एम्बुलेंस

IVA News
राजधानी भोपाल में स्थित कुक्कुट भवन के सभागार में ईवा 2021 कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री परशोत्तम रुपाला। फोटो—टीसीआई

भोपाल। तकनीक के बारे में ग्रामीण अंचल में आप इंटरप्रेन्योर बन सकते हैं। हम अपने विभाग से ही दुधारु गाय की नस्ल बेचकर देश में क्रांति ला सकते हैं। यह बात केंद्रीय मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्री परशोत्तम रुपाला ने बोली। वे भोपाल में कुक्कुट भवन में स्थित सभागार में आयोजित एक कार्यक्रम (IVA News) में अचानक पहुंचे थे। यहां एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) भी पहुंचे। उन्होंने ऐलान किया कि सरकार पशुपालन के क्षेत्र में जल्द एक नया प्रयोग करने जा रही है। वह मानवों की तरह ही पशुओं के लिए एम्बुलेंस सेवा शुरु करेगी। अब किसान अथवा किसी भी पशुपालक को मवेशी लेकर इधर—उधर भटकने की आवश्यकता नहीं होगी।

गधे के दाम बढ़ गए!

जानकारी के अनुसार ईवा लेडी वेट्स कन्वेंशन 2021 का आयोजन किया गया था। इसमें देशभर से पशु चिकित्सालयों की महिला चिकित्सकों ने भाग लिया। इसी कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री परशोत्तम रुपाला पहुंचे थे। हालांकि उनका सरकारी कार्यक्रम प्रशासन अकादमी में पहले से ही निर्धारित था। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने मातृ शक्ति से अपील की पहले वे अपनी विचारधारा बदले। उन्होंने बेटे के जन्म का उदाहरण देते हुए बात को समझाने का प्रयास किया। यह बात कृष्ण की भूमिका निभाने वाले अभिनेता नीतिश भारद्वाज के दिए संबोधन के बाद बोली गई। रुपाला ने बोला गुजरात के डेयरी उद्योग ने अर्थ क्रांति को बदलने का संकेत देश को दिया है। उन्होंने ऊंट के दूध और गधे के कीमत को लेकर भी बात बोली।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Dowry Case: महिला डॉक्टर दहेज लोभी ससुराल वालों से हुई परेशान

नोटिस बोलकर बचते रहे

IVA News
नया—पुराना विवाद उजागर करने वाली महिला चिकित्सक बबीता त्रिपाठी।

इस कार्यक्रम से पहले इंडियन वेटरनरी एसोसिएशन की मान्यता को लेकर शहर में विवाद की स्थिति बनी हुई है। संस्था की महिला विंग की पदाधिकारी बताकर डॉक्टर बबीता त्रिपाठी ने मोर्चा खोला हुआ है। उन्होंने बताया कि जो कार्यक्रम किया जा रहा है वह नई संस्था का है जो दिल्ली से रजिस्टर्ड है। वहीं पुरानी संस्था तमिलनाडू से रजिस्टर्ड है। इस कार्यक्रम को नई संस्था का आयोजन बताकर बवाल हुआ था। त्रिपाठी का आरोप था कि (यह समाचार वीडियो में देखने के लिए हमारी यू ट्यूब चैनल The Crime Info को लाईक और सब्सक्राइब करें) नई संस्था पुरानी संस्था के चिन्हों का इस्तेमाल कर रही है। जबकि ऐसा नहीं किया जाना चाहिए। इन विवादों के बीच कार्यक्रम हुआ और उसमें केंद्रीय मंत्री से लेकर कई अन्य भारत सरकार के मंत्री वहां पहुंचे। इस संबंध में डॉक्टर उमेश शर्मा का दावा है कि त्रिपाठी के आरोप निराधार है। मानहानि का नोटिस भेजने की बात बोली थी। हालांकि डॉक्टर बबीता त्रिपाठी का आरोप है कि मुझे आज तक किसी तरह का मान​हानि का नोटिस नहीं दिया। जबकि एक पत्र मिला ​है जिसमें कहा गया है कि वह माफी मांगे। मेरे माफी मांगने का इस पूरे विषय में सवाल ही नहीं है। यह भी पढ़ें: भोपाल के इस बिल्डर पर सिस्टम का ‘रियायती सैल्यूट’, परेशान हो रहे 100 से अधिक परिवार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Iva News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Rape News: एक पति ने भगाया, दूसरे का पति जेल गया
Don`t copy text!