सिख युवक की पिटाई का वीडियो वायरल, 2 पुलिसकर्मी सस्पेंड

Share

शिरोमणी अकाली दल नाराज, देखें वीडियो

Barwani Video
सिख युवक को बाल पकड़कर खींचता पुलिसकर्मी

बड़वानी। मध्यप्रदेश के बड़वानी (Badwani) में एक सिख युवक की पिटाई का वीडियो (Sikh Youth) जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो में दो पुलिसकर्मी एक युवक को पीटते दिखाई दे रहे है। बेरहमी से पिटाई के इस वीडियो को शिरोमणी अकाली दल (Shiromani Akali Dal) के नेता सुखबीर सिंह बादल (Sukhbir Singh Badal) ने भी शेयर किया है। बादल और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बता दें कि शिरोमणी अकाली दल एनडीए का हिस्सा भी है। वीडियो वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दो पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है।

घटना बड़वानी के पलसूद (Palsood) की है। जहां थाने के बाद दुकान लगाने वाले प्रेम सिंह ग्रंथी (Prem Singh Granthi) की पुलिस ने पिटाई की। वीडियो में प्रेम सिंह कहता सुनाई दे रहा है कि पुलिस उन पर अत्याचार कर रही है। वो मदद भी मांग रहा है। इस दौरान पुलिसकर्मी उसके बाल पकड़कर खींचता दिखाई दे रहा है।

शिरोमणी अकाली दल नाराज

शिरोमणी अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि ये बहुत ही चौंकाने वाला है। मध्यप्रदेश में ज्ञानी प्रेम सिंह ग्रन्थि और अन्य सिखों पर बर्बर और अपमानजनक हमला पूरी तरह से अमानवीय और अस्वीकार्य है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ऐसी अवमानना करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।

कमलनाथ का ट्वीट

वहीं मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट किया कि- मध्य प्रदेश के बड़वानी के पलसूद में प्रेम सिंह ग्रंथी जो की वर्षों से पुलिस चौकी के पास एक छोटी सी दुकान लगाकर अपना जीवन यापन करते आ रहे है। उनको वहाँ की पुलिस ने अमानवीय तरीक़े से पिटा , उनकी पगड़ी उतार दी , बाल पकड़ कर बुरी तरह से सड़क पर उनकी पिटाई की।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case: मां की मौत से दुखी बेटी ने फांसी लगाई

यह अत्याचार व गुंडागर्दी होकर सिख धर्म की पवित्र धार्मिक परंपराओं का अपमान भी है। ऐसी घटनाएँ बर्दाश्त नहीं की जा सकती है। मैं सरकार से माँग करता हुँ कि तत्काल दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो। पीड़ित व्यक्ति को न्याय मिले।

देखें वीडियो

सीएम ने की कार्रवाई

वहीं घटना का वीडियो वायरल होने और सियासत तेज होने के बाद मुख्यमंत्री ने दो पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया। उन्होंने ट्वीट किया कि- बड़वानी में एएसआई सीताराम भटनागर और हेड कांस्टेबल मोहन जामरे को सिख बन्धुओं के साथ किये गए अमानवीय व्यवहार के लिए तुरंत निलंबित किया गया है। सिखों के साथ ऐसी बर्बरता किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मामले की जाँच इंदौर आईजी द्वारा की जाएगी और इनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी।

विधायक कुणाल चौधरी का ट्वीट

मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष और विधायक कुणाल चौधरी ने कहा कि – मप्र में कानून के रक्षक ही भक्षक बन गये हैं। इतनी हिम्मत बढ़ कैसे रही है कि मध्यप्रदेश में कानून-व्यवस्था को ही चुनौती दी जा रही है। क्या भाजपा सरकार ने इसी के लिए लोकतंत्र की हत्या करके सरकार बनाई थी? जवाब दें प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज जी व गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा जी।

यह भी पढ़ें:   Demonetization Effect: मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के सबसे जबरदस्त फैसले के तीन साल पूरे

यह भी पढ़ेंः 400 साल क्यों चला राम मंदिर विवाद, पढ़िए पूरा इतिहास

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!