Chandigarh Rape: किस्त में बिकती रही नाबालिग, अपने ही रिश्तेदारों ने बेचा

Share

मानव तस्करी में शामिल 15 रिश्तेदारों की पुलिस को तलाश

Panjab Rape Case
सांकेतिक चित्र

चंड़ीगढ़। जब अपने ही आपके खिलाफ हो जाए तो सोचिए क्या होगा। यहीं न कि साथ नहीं मिलेगा। मदद नहीं होगी वगैरह—वगैरह। लेकिन, पंजाब (Punjab Crime) के जगरांवा इलाके से एक मामला सामने आया है। यहां एक नाबालिग किस्त में लोगों के हाथ बिकती (Chandigarh Human Trafficking) रही। हर खरीददार उसकी आबरू की कीमत लगाता रहा। यह कीमत नाबालिग के रिश्तेदारों को दी जाती थी। इस मानव तस्करी (Punjab Human Trafficking) में नाबालिग का पिता, सौतेली मां, भाई की प्रेमिका समेत 15 लोग शामिल थे। फिलहाल यह सारे आरोपी फरार चल रहे हैं।

यह भी पढ़ें: देश की सबसे बड़ी एजेंसी कुख्यात बदमाश तो क्या एक बच्ची को नहीं ढुंढ पाई, जानिए क्यों

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि पिता ने उसकी मां को तलाक दिया था। जिसके बाद दूसरी शादी कर ली थी। शादी के बाद पिता अपनी पहली पत्नी की बेटी को अपने साथ ले गया। वह पिता के अलावा सौतेली मां, भाई के साथ रहती थी। करीब एक साल पहले उसके पेट में अचानक दर्द हुआ था। उसकी सौतेली मां उसे डॉक्टर को दिखाने के बहाने अपने साथ ले गई थी। रास्ते में उसकी मां ने किसी व्यक्ति को फोन किया था। उसके आने के बाद ही मां ने बीच रास्ते में उसके साथ छोड़कर वहां से चली गई। वह नाबालिग को एक होटल में ले गया जहां उसने उसके साथ बलात्कार (Punjab Minor Rape) किया था। इसकी खबर घर आने पर मां को बताई तो वह उसके साथ मारपीट करने लगी। कुछ दिन बाद उसकी सौतेली नानी उसे अपने साथ घुमाने का बोलकर गांव ले गई। जहां एक घर के कमरे में उसने मुझे 40 साल के आदमी के साथ बंद कर दिया था। उसने भी मेरे साथ बलात्कार किया।

यह भी पढ़ें:   Ghaziabad Rape: कार में छात्रा से बलात्कार

यही नहीं उसके भाई की प्रेमिका उसके दोस्त हनी के साथ एक गुरप्रीत कौर महिला के घर ले गई थी। महिला ने उसको एक युवक के साथ अकेला कमरे में बंद कर दिया। उसके बाद उसके साथ बलात्कार किया था। घर आकर जानकारी उसने पिता को दी। पिता ने बात सुनकर अनसुना कर दिया। उससे कहा गया कि ऐसा करने पर घर चल रहा है। जब इसका विराध किया तो उसके साथ मारपीट की गई। काफी दिनों तक कमरे में बंद रखा गया। एक दिन घर में सब सो गए थे। तब वह भागकर असली मां के पास पहुंच गई। मां के पास जाकर सारी घटना की सूचना दी। जिसके बाद दूसरे दिन पिता वहां पहुंचे। वहां आकर पिता ने मां को धमकाया। इसके बाद मां पुलिस से मदद मांगने के लिए पहुंची। फिलहाल पुलिस को कोई भी आरोपी नहीं मिला है।

Don`t copy text!