Bhopal Crime News: किराएदार की धमकी, मकान खाली कराया तो बलात्कार में फंसा दूंगी

Share

Bhopal Crime News:  रंगदारी दिखा रही महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

Bihar Crime News
सांकेतिक फोटो

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के बजरिया इलाके से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। विवाद की जड़ एक मकान है, जिसको खाली कराने में उसके मालिक को पसीने छूट रहे हैं। दरअसल, उसमें रहने वाली आरोपी महिला धमकी देती है कि उसने मकान छह लाख रूपए में खरीदा है। महिला धमकी देती है कि वह उसके मालिक के बेटों पर बलात्कार और छेड़छाड़ के मुकदमे दर्ज करा देगी। पुलिस ने रंगदारी दिखाने वाले आरोपी महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया हैं।

वृद्धा को आगे आना पड़ा

बजरिया थाना पुलिस ने बताया कि बुधवार रात करीब साढ़े नौ बजे अवध बाई पति रामदास सबिता उम्र 75 वर्षीय महिला ने अड़ीबाजी का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने धारा 327/294/34 (अड़ीबाजी, गाली गलौज और एक से अधिक आरोपी) के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले में आरोपी कविता पवार, पति हरि किशन और कविता का बाप छोटेलाल हैं। एसआई कमलेश रैकवार (SI Kamlesh Raikwar) ने बताया अवधबाई के दो मकान है। एक चांदबढ़ में और दूसरा सौरभ कॉलोनी में है। दोनों मकानों के बीच करीब सौ मीटर की दूरी है। चांदबड़ स्थित मकान में अवधबाई उसके परिवार के साथ रहती है।

15 दिन के लिए मांगी थी मदद

Bhopal Crime News
सांकेतिक चित्र

कविता पवार को वह पहले से जानती थी। फरवरी 2020 में कविता अवधबाई से मिली थी। तब कविता ने उससे सौरभ कालोनी वाला मकान किराए से मांगा था। लेकिन, पीड़िता ने इंकार कर दिया था। कविता का बोलना था उसे मकान केवल 15 दिन के लिए चाहिए तब तक वह कही और मकान तलाशेगी। मदद के इरादे से बिना पैसों के उसे सौरभ कॉलोनी वाला मकान दे दिया। उसमें चार कमरे है। दो कमरों में कविता रहती हैं। इसके बाद लॉक डाउन लग गया तो पीड़िता उन्हें मकान खाली करने का भी नहीं बोल सकती थी। लॉक डाउन खुलते ही पीड़िता ने खाली करने का बोला तो आरोपी धमकियां दे रही है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide News: नशे की लत से परेशान युवक ने फांसी लगाई

यह भी पढ़ें: अगर सीएम सही है तो अस्पतालों में अच्छा सलूक होना चाहिए, डॉक्टर तो सच बोलने पर पुलिस बुला लेते हैं

मकान खरीदने के नहीं हैं सबूत

जांच अधिकारी ने बताया कविता का बोलना है उसने मकान छह लाख रूपए में खरीदा है। जिसे वह वापस कर देगी तो वह मकान खाली कर देगी। लेकिन, पैसों के लेन—देन और मकान के कोई कागजात आरोपी के पास नहीं है। इतना ही नहीं आरोपी महिला ने पीड़िता के बेटे के खिलाफ 354/376 (छेड़छाड़ और बलात्कार) की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराने थाने पहुंच गई थी। लेकिन, जब महिला की करतूत उजागर हुई तो वह रिपोर्ट दर्ज न कराकर वहां से चली गई। आरोपियों की गिरफ्तारी फिलहाल अब तक नहीं हो सकी हैं।

Don`t copy text!