MP Careless Healthcare: एक खिड़की से कट रहे थे चार तरह के पर्चे, गुस्साई भीड़ ने खड़े किए सवाल

Share

MP Careless Healthcare: वीडियो में देखिए कोलार के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों ने लोगों को डराने पुलिस बुलाई तो वीडियो बनते देख भागी पुलिस

MP Careless Healthcare
कोलार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बाहर लगी पर्चा बनाने लंबी कतार

भोपाल। मध्य प्रदेश (MP Careless Healthcare) में कोरोना की लहर चरम पर है। सरकारी अस्पतालों में इंतजाम नाकाफी है। निजी अस्पताल मनमाना पैसा वसूल रहे हैं। हर रोज शिकवा शिकायतें आ रही है। सिस्टम सबक लेकर सुधरने की बजाय अब आम नागरिकों को भय दिखाने लगा है। ताजा मामला भोपाल के कोलार में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से सामने आया है। यहां एक विंडो से सभी तरह के पर्चे काटे जा रहे थे। जिसका विरोध किया तो अस्पताल प्रबंधन ने पुलिस बुलाकर लोगों को डराना चाहा। लेकिन, पब्लिक इस फैसले से भड़क गई और पुलिस को अपनी डायल—100 लेकर वहां से भागना पड़ा।

पर्चा बनाने पर शुरु हुई कहासुनी

अस्पताल में पहुंचे लोगों ने बताया कि कोलार में लगभग पांच लाख की आबादी है। इस आबादी में एकमात्र स्वास्थ्य केंद्र है जिसमें काफी बदइंतजामी है। सरकार कोरोना को लेकर संवेदनशील होने का दावा कर रही है। लेकिन, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में ऐसा नहीं है। विवेक पांडे (Vivek Pande) ने बताया कि एक ही विंडो है। जिसमें कोरोना के टेस्ट के पर्चे, आम बीमारी के पर्चे और गर्भवती महिलाओं के विशेष पर्चे भीड़ में है तो उसे सबसे पहले बनाकर दिया जाएगा। इसी विंडो से स्वास्थ्य केंद्र के कर्मचारी स्टाफ बताकर दूसरे पर्चे बना रहे थे। यह देखकर कुछ लोगों ने आपत्ति उठाई। इसी आपत्ति से नोकझोक शुरु हुई जो बाद में बवाल में तब्दील हो गई।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: महिला समेत पांच लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

पुलिस पर्चे बनाने लगी

MP Careless Healthcare
कोरोना वायरस सांकेतिक चित्र

भागीरथ गहलोत (Bhagirath Gehlot) ने बताया कि हंगामा बढ़ता देखकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ने पुलिस को बुला लिया। कोलार थाने से पहले दो पुलिसकर्मी आए। वे व्यवस्थाएं बनाने की बजाय पर्चा कटवाने लगे। जिसको देखकर वहां भीड़ फिर भड़क गई। पुलिसकर्मी ने वहां डायल—100 को बुलवा लिया। जिस युवा ने पुलिसकर्मी के पर्चे बनाने का विरोध किया उसे ले जाया जाने लगा। यह देखकर वहां मौजूद कई लोगों ने अपने मोबाइल निकालकर वीडियो बनाना शुरु कर दिया। नतीजतन पुलिस बैकफुट में आई और वहां से भागना ही उचित समझा। इसके बाद डॉक्टरों ने लोगों से सहयोग की अपील की। जिसके बाद मरीज मानने को राजी हुए।

यह भी पढ़ें: भोपाल के पूर्व महापौर जिस दल के हैं वह हिंदू समाज को लेकर आगे रहती है, लेकिन मंदिर को लेकर वे कौन सी राजनीति कर रहे

सीएमएचओ का मोबाइल बंद

MP Careless Healthcare
कोलार डिस्पेंसरी के बाहर लगी लंबी कतार

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में काफी देर तक इलाज बंद रहा। स्थिति सुधरी तो पर्चे बनने शुरु हुए। इस संबंध में केंद्र के प्रभारी बातचीत के लिए सामने नहीं आए। वहीं सीएमएचओ डॉक्टर प्रभा​कर तिवारी (Dr Prabhakar Tiwari) का लगातार तीन घंटे तक फोन बंद रहा। लोगों का आरोप था कि कोलार के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में यह बदइंतजामी काफी अरसे से हैं। जानकारी क्षेत्र के विधायक रामेश्वर शर्मा से लेकर कई अन्य जनप्रतिनिधियों को भी है। लेकिन, अब तक इस विषय पर किसी तरह का आंदोलन नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें: इस वर्दी पहने दिल्ली के एसीपी के झांसे में न आना, वरना पूरे परिवार को पड़ेगा पछताना 

वीडियो में देखिए पर्चे काउंटर से लेकर डायल—100 तक में बैठने का वीडियो

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: नाबालिग समेत तीन व्यक्तियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!