MP Double Murder: परवरिश से तंग आकर उतारा था दो मासूम बच्चों को मौत के घाट

Share

आरोपी पिता को धार पुलिस ने किया गिरफ्तार, चार और छह साल के बेटों की कर दी थी हत्या

Madhya Pradesh Brutal Murder
आरोपी के बारे में जानकारी देते हुए धार एस पी आदित्य प्रताप सिंह

इंदौर। मध्यप्रदेश (#Madhya Pradesh Crime) के धार (#Dhar Crime) जिले में दो मासूम बच्चों के कत्ल (Minor Child Brutal Murder) से पुलिस ने पर्दा उठा दिया है। कातिल दोनों बच्चों का पिता ही निकला। आरोपी ने खुलासा किया है कि वह दोनों बच्चों की परवरिश किए जाने से तंग आ गया था। इसलिए उसने शराब पीने के बाद दोनों बच्चों को गड्ढे में फेंककर भाग गया था। इससे पहले उसने पुलिस को काफी छकाया। दरअसल, इस पूरी घटना का कोई चश्मदीद पुलिस के पास नहीं था। पुलिस को आरोपी की बाइक एक कलारी के सामने लावारिस मिली थी। वह हत्या करने के बाद गुजरात (Gujrat) के गोधरा (Godhra) शहर भाग गया था।

यह खुलासा करते हुए धार जिले के एसपी आदित्य प्रताप सिंह (SP Aditya Pratap Singh) ने बताया कि 23 सितंबर, 2019 को बदनावर थाना क्षेत्र के मुलथान (Multhan Child Murder Case) में दो बच्चों की लाश मिली थी। लाश लगभग 100 फीट गहरे गड्ढे में मिली थी। जहां लाश मिली थी वहां किसी व्यक्ति की मदद के बिना बच्चों का पहुंचना संभव नहीं था। मामले में नाटकीय मोड़ तब आया जब दो किलीमीटर नजदीक देशी कलारी में एक बाइक लावारिस हालत में मिली। बाइक के नंबर से पुलिस गांव रिटोडा में रहने वाले बद्री के पास पहुंची। उसने दोनों की लाश देखकर नाती आयुष (Ayush Murder) उम्र 6 साल और शुभम (Shubham Mureder) 4 साल के रूप में पहचान की। पुलिस ने बच्चों की मां मायाबाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसका पति धर्मेंद्र दोनों बच्चों को रतलाम ले जाने का कहकर निकला था। अब पुलिस के सामने दूसरी चुनौती आ गई। दरअसल, पुलिस को धर्मेंद्र का कोई सुराग नहीं मिला था। इस कारण पुलिस हत्या या लूटपाट समेत किसी अन्य विषय को लेकर जांच नहीं कर पा रही थी। पुलिस को सफलता तब मिली जब उसको खबर लगी कि धर्मेंद्र को गुजरात के गोधरा स्टेशन के नजदीक देखा गया है। वह एक बाइक पर था। पुलिस ने उसका सुराग तलाशकर उस तक पहुंच गई।

यह भी पढ़ें:   Madhya Pradesh Crime: गुप्त रोग भगाने के बहाने नाबालिग से अप्राकृतिक कृत्य

पुलिस को फर्जी कहानी बताई
पुलिस ने धर्मेंद्र को हिरासत में लिया। उससे जब पूछताछ की गई तो उसने बताया कि कुछ लोग उसको और बच्चों को अगवा कर ले गए थे। जिसके बाद वे बच्चों को मारकर मुझे गोधरा में छोड़ गए। लेकिन, वह पुलिस के तकनीकी सवालों के सामने पस्त हो गया। फिर पुलिस ने उससे सख्ती बरती तो वह टूट गया। उसने अपने दोनों मासूम बेटों को मारना कबूल लिया। उसने खुलासा किया कि उसने ही शराब पीने के बाद बच्चों को पानी से भरे गड्ढे में फेंककर भाग गया था।

इस कारण मारा
धर्मेंद्र ने बताया कि वह शराब पीने का आदी है। इस कारण घर में विवाद होता था। पत्नी माया मजदूरी करने जाती थी। पत्नी ने शर्त रखी थी कि वह मजदूरी करने तभी जाएगी जब वह बच्चों की परवरिश करेगा। बच्चे छोटे थे इसलिए उनको भरण पोषण में दिक्कत आती थी। इस बात से वह तंग आ चुका था। इसलिए बच्चों को मारने की योजना बनाई।

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।
Don`t copy text!