Transport Commissioner Video: सरकार को लग रहा है एडीजी को हटाकर वह बच गई

Share

Transport Commissioner Video: उज्जैन आईजी रहते ​लिफाफा लेते हिडन कैमरे में कैद हुए थे आईपीएस अफसर व्ही मधुकुमार

Transport Commissioner Video
लिफाफा रखते पुलिस के अफसर और सादी वर्दी में ट्रांसपोर्ट कमिश्नर वी मधुकुमार

भोपाल। भारतीय पुलिस सेवा में 1991 बैच के आईपीएस व्ही मधुकुमार (IPS V.Madhukumar News) को शनिवार रात सरकार ने पीएचक्यू अटैच कर दिया। इससे पहले व्ही मधुकुमार ट्रांसपोर्ट कमिश्नर (MP Transport Commissioner News) थे। एडीजी को हटाने से पहले शनिवार दोपहर उनका पांच मिनट से अधिक का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल (Transport Commissioner Video) हो गया था। इस वीडियो में वह मैदानी अमले से लिफाफा लेते हुए हिडन कैमरे (MP IPS Officer Sting Case) में कैद हुए थे। यह वीडियो पांच मिनट से अधिक का है। लेकिन, सरकार ने उन्हें हटाकर यह समझ लिया है कि वह अपनी जिम्मेदारियों से बच गई है। विपक्ष इस मामले को भविष्य में मुद्दा बनाने की तैयारी में हैं।

तब आईजी थे

व्ही मधुकुमार का वीडियो (V. Madhukumar Video) चार साल पुराना जरुर है। लेकिन, यह किस व्यक्ति के पास दबा था यह रहस्य है। सरकार इस सच्चाई को उजागर करने से बचना चाहती है। वहीं इस वीडियो से भारतीय पुलिस सेवा की बहुत ज्यादा किरकिरी हो गई है। बताया जा रहा है कि यह वीडियो (Transport Commissioner Video) एक रेस्ट हाउस का है। इसमें वह कई पुलिस अफसरों से लिफाफा लेते कैमरे में कैद हो रहे हैं। जब यह वीडियो बना था तब वे आईजी थे और उज्जैन में तैनात थे। उस वक्त सरकार भाजपा की सरकार थी। कांग्रेस सरकार में उन्हें ट्रांसपोर्ट कमिश्नर बनाया गया था।

यह भी पढ़ें : सिस्टम जिसने रसूख के चलते 20 साल कभी सुध नहीं ली लेकिन, एक खुलासे ने पूरे शहर को हिला दिया

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: कलेक्टर के रिश्तेदार ने पुलिस से मांगी मदद

अब तक नाम तय नहीं

खबर है कि व्ही मधुकुमार को हटाने के लिए आईपीएस की एक लॉबी सक्रिय थी। उनको ट्रांसपोर्ट कमिश्नर से हटाने को लेकर यह वीडियो वायरल कराया गया है। हालांकि सरकार ने उनके बदले अभी किसी अफसर की तैनाती नहीं की है। लेकिन, खबर है कि इसके लिए पांच नाम तेजी से चल रहे हैं। इसमें भोपाल आईजी उपेन्द्र जैन (IPS Upendra Jain), उनके भाई जो दिल्ली स्थित एमपी भवन में तैनात है मधु जैन, विजय यादव (Vijay Yadav) के नाम प्रमुख हैं। उपेन्द्र जैन का नाम लगभग तय माना जा रहा है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!