Bhopal Cheating Case: नौकरी लगाने वाला जालसाज दबोचा

Share

Bhopal Cheating Case: कई थानों में दर्ज होने लगे मुकदमे

Bhopal Cheating Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सक्रिय एक जालसाज (Bhopal Cheating Case) को दबोचा गया है। उसके गिरफ्त में आते ही एक—एक करके तीन मुकदमे एक ही दिन में दर्ज कर लिए गए। शातिर जालसाज (Bhopal Fraud Case) के संबंध में पुलिस की टीम उसकी जानकारी जुटा रही है। पुलिस को शक है कि ऐसे कई अन्य व्यक्तियों को वह अपने जाल में फंसा चुका है।

जेल से हुई थी शुरुआत

इस मामले का आरोपी मेहमूद खाँ (Mehmood Khan) पिता इमामउद्दीन उम्र 53 साल है। वह मूलत: मौलाना आजाद मार्ग, केडी गेट के पास उज्जैन में रहता था। वह फिलहाल श्यामला हिल्स हाता रुस्तम खां इलाके में अनीस भाई (Anis Bhai) के मकान किराये से रहता है। आरोपी सरकारी विभागों में नौकरी लगाने का झांसा देकर ठगी (Bhopal Thug Case) करने का काम करता था। आरोपी अब तक शहर की पांच धोखाधड़ी की वारदातें कबूल कर चुका है। सबसे पहले उसकी वारदात गांधी नगर थाने में प्रियंका धुर्वे (Priyanka Dhurve) पिता राजू उम्र 26 साल नि- बरखेडी ने दर्ज कराई थी। वह मंगेतर से मिलने जेल में गई थी तब आरोपी ने झांसा दिया था।

प्रसाद लेने का झांसा देकर भागा था

आरोपी मेहमूद खाँ जेल के बाहर जब मिला था तब वह खाकी पेंट, सफेद शर्ट व मिलेट्री की केप पहने हुआ था। उसने अपना नाम महेश चौहान (Mahesh Chouhan) बताया था। उसने कहा था कि वह जेल का कर्मचारी है। उसने प्रियंका को नौकरी लगाने का झांसा दिया था। फॉर्म भराने के बाद वह यह बोलकर निकला कि उसकी नौकरी लग गई है। वह प्रसाद लेकर आ रहा है। इसके लिए उसने प्रियंका धुर्वेे से उसकी मोपेड मांगी थी। जिसके बाद वह गायब हो गया था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Gang Rape Case: मामा करता था ज्यादती, खबर लगी तो फूफा ने भी नहीं छोड़ा

यह भी पढ़ें: आखिरकार दिल्ली के इस एसीपी के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया, जानिए इस अफसर के कारनामे

ऐसे करता था जालसाजी

आरोपी मेहमूद खां के खिलाफ हबीबगंज थाने में धोखाधडी का मामला पहले दर्ज हो चुका है। अभी ताजा गिरफ्तारी के बाद स्टेशन बजरिया में दो, श्यामला हिल्स और बैरागढ़ थाने में एक—एक मामले दर्ज किए गए है। आरोपी 2018 से लगातार जालसाजी की वारदातें कर रहा था। बजरिया थाने में मेहमूद खां के खिलाफ फिरोज खान (Firoz Khan) और संदीप यादव ने मुकदमा दर्ज कराया है। फिरोज से बाइक दिलाने के नाम पर 10 हजार और संदीप यादव (Sandip Yadav) से नौकरी दिलाने के नाम पर चार हजार रुपए ऐंठे थे। इसके अलावा श्यामला हिल्स में अब्दुल इफ्तेखार खान से लोडिंग आटो किराए से लगाने के नाम पर 6 हजार रुपए ऐंठ लिए थे।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!