Bhopal News: नव विवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान

Share

Bhopal News: पूरे थाने को थी पति के अवैध संबंधों की खबर, परिवार जोड़ने में ज्यादा रहा फोकस, परिजन पुलिस की कार्रवाई से नाराज, सिस्टम की लापरवाही के चलते मौत होने का लगाया आरोप

Bhopal News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। पति—पत्नी के बीच वो की यह कहानी है। जिसकी जानकारी थाने के हर कर्मचारी को पता थी। लेकिन, कार्रवाई का साहस कोई अफसर जुटा नहीं पा रहा था। मामला भोपाल (Bhopal News) सिटी के कोलार थाना क्षेत्र का है। घटना की शुरुआत पारिवारिक कलह से शुरु हुई थी।  जिसमें पीड़ित नव विवाहिता ने थाने के कई महीने चक्कर भी काटे। हताश होकर नव विवाहिता ने फांसी लगा ली। पुलिस ने इस मामले में फिलहाल मर्ग कायम किया है। मामला नव विवाहिता की मौत से जुड़ा है। इसलिए आगे की जांच एसीपी स्तर के अधिकारी करेंगे।

टीआई आरोपों से मुकरे

कोलार थाना पुलिस के अनुसार 15 जुलाई की सुबह लगभग साढ़े ग्यारह बजे प्रकाश तोमर (Prakash Tomar) ने खुदकुशी करने की जानकारी दी थी। शव की पहचान कविता तंवर पति कैलाश तंवर उम्र 21 साल के रुप में हुई। वह कजलीखेड़ा गांव में रहती थी। कैलाश तंवर के साथ मृतका की लगभग डेढ़ साल पहले शादी हुई थी। कविता तोमर (Kavita Tomar) के ससुराल में उसको मानसिक प्रताड़ना दी जा रही थी। परिवार का आरोप है कि कैलाश तंवर (Kailash Tanwar) के दूसरी महिला से संबंध थे। यह जानकारी मृतका को पता चल गई थी। इस कारण उसने कोलार थाना पुलिस ने मदद भी मांगी थी। मदद के नाम पर उसकी सिर्फ काउंसलिंग की जाती रही। इतना ही नहीं गौरवी संस्था में भी उसकी काउंसलिंग की गई। संस्था और थाने को अवैध संबंधों की जानकारी भी थी। लेकिन, पुलिस ने कोई सख्त कदम नहीं उठाया तो कविता तोमर मायूस हो गई थी। हालांकि कोलार थाना प्रभारी चंद्रकांत पटेल(TI Chandrakant Patel)  इन आरोपों को नकार रहे है।

बेटी को मार डाला

कोलार पुलिस मर्ग 56/22 दर्ज कर मामले (Bhopal News) की जांच करने का दावा कर रही है। कविता तोमर का मायका राजगढ़ स्थित सुठालिया में हैं। उसके ससुराल में पति कैलाश तंवर के अलावा ससुर बंशीलाल, सास केशर बाई और जेठ प्रकाश भी साथ में रहते हैं। नव विवाहिता के पिता कालूराम ने बताया कि पुलिस की तरफ से कोई सहयोग बेटी को नहीं मिला था। परिवार ने समाज की पंचायत के जरिए समाधान निकालने का प्रयास किया था। जब दामाद नहीं माना तो पुलिस से मदद मांगी गई थी। पुलिस ने पीएम के बाद शव शनिवार को परिजनों को सौंप दिया है। शव लेने ससुराल पक्ष की तरफ से कोई भी सामने नहीं आया। इसलिए पुलिस ने पिता और भाई को नव विवाहिता का शव सौंप दिया है। जनहित में संदेश: आत्महत्या के विचार आना मानसिक अवसाद की निशानी है। यदि ऐसा महसूस हो रहा है तो 18005990019 पर संपर्क करें। इसमें चिकित्सक चौबीस घंटे निशुल्क उपचार के लिए उपलब्ध रहते हैं।

यूक्रेन में महिला हिंसा की वह दास्तां जो दुश्मनी की वजह से रूसी सैनिकों के निशाने पर आईं

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: पेप्सी कंपनी के सेल्समेन का बैग ले जाने वाले गिरफ्तार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!