New Born Baby Killing: कुंवारी मां की नवजात बच्ची की हत्या नाना—नानी ने इसलिए कर दी

Share

New Born Baby Killing: हत्या के आरोप में नाना—नानी गिरफ्तार, पीड़िता की शिकायत पर दर्ज होगा दूसरा मामला

New Born Baby Killing
गिरफ्तार हुए नाना—नानी

भोपाल। इक्कीसवीं सदी के बाद भी भारतीय समाज कितना विकसित है उसकी एक झकझोर देने वाली कहानी सामने आई है। मामला मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) का है। इस कहानी की तह में जाने के लिए भोपाल पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। जिसके परिणाम सामने आए तो पुलिस के अफसर भी हैरान हो गए। यह पूरी कहानी बलात्कार (Bhopal Rape Case) की एक घटना से शुरु होती है। जिसको पीड़िता के माता—पिता ने छुपा लिया। पीड़िता ने बच्ची को जन्म दिया जिसकी बेरहमी से हत्या (New Born Baby Killing) कर दी गई।

ऐसे उजागर हुआ मामला

घटना भोपाल के अयोध्या नगर (Ayodhya Nagar Murder Case) स्थित जी—सेक्टर में मंदिर के पास की है। यहां शॉल में लिपटी करीब दो दिन पुरानी बच्ची (Bhopal New Born Baby Murder) का शव 28 सितंबर, 2020 को मिला था। उसके सीने और पीठ पर धारदार हथियार से हमला करने के निशान थे। जिसकी पीएम रिपोर्ट में हत्या (Bhopal Child Murder) का खुलासा हुआ था। इसके बाद मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करना पड़ा। पुलिस ने सारे सरकारी और गैर सरकारी अस्पताल में हुए बच्चों का ब्यौरा जुटाया। इसके अलावा एएनएम और दाई जो डिलीवरी कराती है उनकी जानकारी जुटाई गई। जिसके बाद पुलिस को सफलता हाथ लगी।

यह भी पढ़ें: प्रेमी को मारने जा रहा था लेकिन पत्नी आ गई सामने

नानी के पास यह था हुनर

पुलिस ने बताया कि इसी छानबीन के दौरान एक घर में बच्ची के जन्म की खबर मिली। परिवार एन—सेक्टर में ही रहता है। पुलिस ने हत्या और सबूत छुपाने के मामले में बच्ची के नाना और नानी को गिरफ्तार किया। नानी ने पूछताछ में बताया कि उसकी बेटी गर्भवती है यह जानकारी उसको तीन महीने पहले लगी थी। गर्भ छह महीने का था इसलिए गर्भपात नहीं हो पा रहा था। बेटी ने बताया कि उसके साथ जनवरी, 2020 में बलात्कार हुआ था। आरोपी नानी अस्पतालों में डिलीवरी कराने का काम करती है। नाना—नानी सामाजिक बदनामी के भय से पुलिस के पास नहीं पहुंचे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: पत्नी के चरित्र पर पति करता था शक, बाजार से लौटी तो पीटा

इस पल का किया इंतजार

आरोपी नानी ने बताया कि बेटी ने बच्ची को जन्म दिया। उसके दो दिन बाद उसकी हत्या करने का फैसला लिया गया। दरअसल, बेटी की शादी नहीं हुई थी और उसने बच्ची को जनम दिया था। इसलिए समाज में उनकी बदनामी हो जाती। इसलिए बच्ची की हत्या के लिए सर्जीकल ब्लैड खरीदकर उसके सीने और पीठ पर मार दिया गया। अत्यधिक रक्तस्त्राव होने से उसकी मौत हो गई। जिसके बाद लाश को शॉल में लपेटकर फेंक दिया गया। अयोध्या नगर थाना प्रभारी रेणु मुराब ने बताया कि पीड़िता के बयान दर्ज करने के बाद बलात्कार (Bhopal Rape And Murder Case) का अलग से मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!