‘जियो और जीने दो वाली कांग्रेस अच्छी थी, भाजपा ने तो मार डाला’

Share

आपको भी भावुक कर देंगे मूर्तिकार के आंसू

Murtikaro ka Dard
भारत प्रजापति, मूर्तिकार

भोपाल। कोरोना महामारी के चलते भगवान गणेश जी के पंडाल नहीं सजे है। सरकार ने सार्वजनिक रूप से प्रतिमा स्थापित करने पर रोक लगाई है। जिसके चलते इस बार गणेश उत्सव सूना है। बाजार में सन्नाटा है, कोई रौनक नजर नहीं आती। सरकार के इस फैसले का सीधा असर मूर्तिकारों पर पड़ा है। साथ ही टेंट हाउस का धंधा करने वालों को भी बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है। सरकार का तर्क है कि गणेश पंडालों में भीड़ होती, जिसकी वजह से कोरोना फैल सकता था। लिहाजा रोक लगाई गई। लेकिन इसके उलट ग्वालियर में भाजपा के सदस्यता अभियान के लिए बड़े-बड़े पंडाल सजाए गए हैं, जहां हजारों की भीड़ लग रही है। भाजपा के ये पंडाल उन मूर्तिकारों को मुंह चिढ़ाते नजर आते हैं, जिनके सपने कोरोना की आड़ में तोड़ दिए गए।

कौन पौछेगा मूर्तिकारों के आंसू

सरकार ने गणेश उत्सव के बाद दुर्गा उत्सव पर रोक का फैसला पहले से लिया हुआ है। ऐसे में मूर्तिकारों को कोई राह नजर नहीं आ रही। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ईद से ठीक पहले सार्वजनिक त्यौहार मनाए जाने पर रोक लगाई थी। तब तक तो मूर्तियां बनाने का आधा काम किया जा चुका था। बता दें कि मूर्तिकारों की कई महीनों की मेहनत के बाद सुंदर प्रतिमाएं तैयार होती है। कलाकारों को उम्मीद थी कि सरकार मन बदल लेगी। कोरोना की आड़ से आस्था जीत जाएगी। लिहाजा मूर्तिकारों ने काम चालू रखा। प्रतिमाएं तैयार कर ली गई। लेकिन सरकार नहीं मानी।

यह भी पढ़ें:   MP Fraud Case: भगवान राम का नाम लेकर जालसाजों ने किया उसको बदनाम

सुनिए क्या कहा मूर्तिकार ने

कैसे चुकाएंगे कर्ज

वीडियो में दिख रहे शख्स का नाम भारत प्रजापति है। भारत भोपाल के इतवारा इलाके में रहते है। द क्राइम इन्फो को भारत ने बताया कि उन्होंने बाजार से कर्ज लेकर मूर्तियां बनाई थी। लेकिन एक भी मूर्ति नहीं बिकी। साढ़े चार लाख रुपए का कर्ज अब कैसे चुकाएंगे। भारत ने बताया कि सरकार ने कुम्हार समाज को धोखे में रखा। पहले मूर्तियां बनाने के लिए कहा, फिर छोटे-छोटे पंडालों पर भी रोक लगा दी। भारत प्रजापति का ये वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। लेकिन 24 घंटे बाद भी किसी नेता या अधिकारी ने उनकी सुध नहीं ली। वहीं दूसरे मूर्तिकार उमेश प्रजापति ने बताया कि प्रदेश में मूर्तिकार समाज को करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है।

उग्र आंदोलन की चेतावनी

वहीं संस्कृति बचाओं मंच के अध्यक्ष चंद्रशेखर तिवारी ने उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। तिवारी ने कहा कि भाजपा हिंदू समाज की पार्टी होने का दावा करती है। लेकिन हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है। गणेश उत्सव मनाने के लिए हिंदू समाज के प्रतिनिधियों ने कई मंत्रियों और नेताओं के सामने नाक रगड़ी, लेकिन अनुमति नहीं दी गई। शिवराज सरकार को गणेश उत्सव में कोरोना का डर लग रहा है। दूसरी तरफ सदस्यता अभियान में हजारों की भीड़ जुटाई जा रही है। तिवारी ने कहा कि दुर्गा उत्सव मनाने की अनुमति नहीं दी गई तो उग्र आंदोलन होगा।

यह भी पढ़ें:   Full Dress Rehearsal: राज्य स्तरीय परेड की डीजीपी ने की समीक्षा

यह भी पढ़ेंः रंग लाई समाजसेवी की मुहिम, दिग्विजय के ट्वीट से जागी सरकार, बच्ची को मिला जीवनदान

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!