Video : भोपाल में कोरोना योद्धाओं पर लाठीचार्ज

Share

स्थायी नियुक्ति की मांग कर रहे कर्मचारियों को किया गिरफ्तार

Bhopal Lathicharge
प्रदर्शनकारियों पर लाठी भांजती पुलिस

भोपाल। (Bhopal) कोरोना संकट में अपनी जान पर खेलकर ड्यूटी करने वाले स्वास्थ्य कर्मचारियों (corona warriors) को अब लाठियां (Lathicharge) भी खानी पड़ रही है। दरअसल स्थायी नियुक्ति की मांग को लेकर ये कर्मचारी नीलम पार्क में धरना दे रहे थे। इन स्वास्थ्य कर्मचारियों को पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी। पुलिस के लाठीचार्ज में कई कोरोना योद्धा घायल हो गए। प्रदर्शन कर रहे कर्मचारी कई अस्पतालों और अन्य जगह पर सेवाएं दे चुके हैं।

स्वास्थ्य मंत्री से लगाई थी गुहार

सेवा बहाली और नियमितीकरण की मांग को लेकर इन कर्मचारियों ने मंत्री प्रभुराम चौधरी से भी गुहार लगाई थी। लेकिन मांग पूरी न होने पर कर्मचारियों ने आंदोलन का रास्ता अपना लिया। प्रदेशभर के 600 से ज्यादा स्वास्थकर्मी भोपाल में प्रदर्शन करने आए थे। गुरूवार को अनुमति नहीं होने के बाद भी स्वास्थ कर्मी नीलम पार्क पर धरना देकर प्रदर्शन पर डटे थे। पुलिस ने उन्हें काफी देर से हटने के लिए कह रही थी, लेकिन नहीं मानने पर पुलिसकर्मियों ने उन्हें जबरन उठाने का प्रयास किया।

देखें वीडियो

YouTube video

प्रदर्शन की अनुमति नहीं थी

जानकारी के मुताबिक इन प्रदर्शनकारियों को एक दिन की अनुमति मिली थी। लेकिन बुधवार से शुरु हुआ प्रदर्शन गुरुवार को भी जारी था। पुलिस ने उन्हें उठाने की कोशिश की, जिससे कर्मचारी उग्र हो गई। जिसके बाद पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी। जिसमें प्रदर्शनकारियों को चोटें आई हैं। टीआई वीरेंद्र सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य कर्मियों ने सिर्फ एक दिन के प्रदर्शन की अनुमति ली थी। आज गैस पीड़ित संगठनों ने भी प्रदर्शन की अनुमति ली थी। ऐसे में पहले प्रदर्शनकारियों को दोबारा से अनुमति लेने को कहा, लेकिन प्रदर्शनकारी अपनी जगह से हटने को तैयार नहीं थे। ऐसे में उन्हें बलपूर्वक हटाना पड़ा।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: पुलिस का खबरी समझकर ऐसा धोया

कांग्रेस ने उठाए सवाल

इस मामले लाठीचार्ज का वीडियो ट्वीट करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता केके मिश्रा ने लिखा कि- संकट की घड़ी में “कोरोना योद्धा” थे,अब आतंकवादी! भोपाल में कोरोना योद्धाओं की आवाज़ लाठियों से दबाई,सम्मान की जगह मिली जेल,सैकड़ों युवतियां भी गंभीर घायल,घायलों की चीख,सड़कों पर फैले वस्त्र सरकारी निर्लज्जता की कहानी बयां कर रहे हैं!

यह भी पढ़ेंः खिसियानी प्रेमिका ने दुल्हन की आंखों में डाल दिया फेवीक्विक

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!