Bhopal Cheating Case: एक ही प्लॉट दो लोगों को बेचा

Share

Bhopal Cheating Case: बैंक ने भी दे दिया था लोन, एसपी से हुई थी शिकायत

Bhopal Cheating Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। जालसाज ने  जमीन का सौदा (Bhopal Cheating Case) दो लोगों से कर लिया। घटना मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) की है। झांसे में आए पीड़ितों को खबर लगी तो वे हैरान रह गए। दोनों ने बैंक से प्लॉट के लिए लोन भी लिया था। यह लोन बैंक ने भी मंजूर कर दिया था। मामले की शिकायत भोपाल दक्षिण क्षेत्र के एसपी से की गई थी। जिसमें जांच के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ जालसाजी (Bhopal Plot Fraud Case) और दस्तावेजों की कूटरचना का प्रकरण दर्ज कर लिया हैं।

बीयर बार में करता है नौकरी

अवधपुरी थाना पुलिस ने बताया कि इस मामले की शिकायत अरेरा कॉलोनी ई—7 निवासी प्रमोद प्रियदर्शी (Pramod Priyadarshi) पिता सूर्य कुमार सिंह उम्र 41 साल और शिवलोक फेस—1 निवासी प्रभाकर सिंह (Prabhakar Singh) पिता सुरेन्द्र सिंह उम्र 35 साल ने की थी। दोनों ने विनोद चुग (Vinod Chugh) पिता किशन लाल उम्र 53 साल निवासी पंजाबी बाग से 1152 स्क्वायर फीट का प्लॉट खरीदा था। लेकिन, यह एक प्लॉट अलग—अलग तारीखों में दो लोगों को बेचा गया। जांच में यह साबित होने के बाद जालसाजी का प्रकरण दर्ज कर लिया गया।

ऐसे दिया था धोखा

प्रमोद ने यह प्लॉट फरवरी, 2019 में 12 लाख 85 हजार रुपए में खरीदा था। जिसकी बकायदा रजिस्ट्री भी कराई गई। यह प्लॉट आरोपी महेन्द्र पाल सिंह (Mahendra Pal Singh) पिता वीरेन्द्र सिंह निवासी एक्सल स्टेट होशंगाबाद रोड निवासी की मदद से खरीदा। एक महीने बाद आरोपी महेन्द्र पाल सिंह ने वही प्लॉट मार्च, 2019 में प्रभाकर सिंह को 17 लाख रुपए में बेच दिया गया। प्रभाकर सिंह एमपी नगर में एक बार में नौकरी करते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Extra Maritial Affair: चुपके से प्रेमी से मिलने पहुंची महिला की लाठी से पीट—पीटकर हत्या

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के मंत्रियों के पर्चे छपवाकर जालसाज ऐसे लगा रहा था बेरोजगारों को चूना

एक साल बाद मुकदमा दर्ज

जमीन अवधपुरी स्थित खजूरी कला में थी। इस मामले (Bhopal Plot Cheating Case) की शिकायत एक साल पहले एसपी से की गई थी। मामले की जांच की जा रही थी। जिसको पूरा करने के बाद आरोपी महेन्द्र पाल सिंह और विनोद चुग के खिलाफ मुकदमा (Bhopal Land Cheating Case) दर्ज कर लिया गया है। पुलिस का कहना है कि अभी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस आरोपियों के संबंध में रजिस्ट्री कार्यालय से भी दस्तावेज जुटाए जा रहे हैं। पुलिस को इस रजिस्ट्री कराने वाले गवाहों की भी पुलिस को तलाश है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!