महंगी शराब पर कांग्रेस की दो टूक, जनता से लूट बर्दाश्त नहीं

Share

MRP से ज्यादा कीमत पर बेची जा रही शराब, ऊपर का पैसा कहां जा रहा है ?

Brijendra Singh Rathore
बृजेंद्र सिंह राठौर, पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस विधायक, मध्यप्रदेश

भोपाल। मध्यप्रदेश में शराब की कीमतों पर कांग्रेस ने सवाल उठाए है। कांग्रेस का आरोप है कि शराब दुकानों पर एमआरपी (MRP) से ज्यादा कीमत वसूली जा रही है। शराब ठेकेदार मनमानी कर रहे है। उन्हें कोई रोकने वाला नहीं है। लिहाजा एक तरफ जनता की जेब कट रही है, तो दूसरी तरफ राज्य सरकार को राजस्व हानि हो रही है। सोमवार को पूर्व आबकारी मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर (Brijendra Singh Rathore) ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय (PCC) में प्रेस वार्ता (Press Conference) की। इस दौरान अपने आरोपों को सच साबित करने के लिए उन्होंने कुछ ऑडियो-वीडियो भी मीडिया के सामने रखे।

सोने के अंडे देने वाली मुर्गी है ठेकेदार

पूर्व मंत्री राठौर ने कहा कि मध्य प्रदेश के अधिकतर जिलों में आज शराब की बिक्री प्रिंट रेट से अधिक दाम पर की जा रही है। लिखित जानकारी प्रदेश के वाणिज्य कर मंत्री जगदीश देवड़ा सहित आबकारी विभाग के आला अधिकारियों को भी दी गई है। सूत्र तो यह भी बताते हैं कि कुछ अधिकारी ठेकेदारों को सरकार की सोने के अंडे देने वाली मुर्गी समझते हैं। ऐसे कुछ आबकारी अधिकारियों के वक्तव्य ऑडियो एवं वीडियो रिकॉर्डिंग में उपलब्ध हैं।

किसकी जेब में जा रहा ऊपर का पैसा

‘आज संपूर्ण प्रदेश में मदिरा दुकानों पर उपरोक्त नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है। इसके प्रमाण मेरे पास उपलब्ध हैं, परंतु आबकारी विभाग कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है। एक तरह से जनता की जेब काटी जा रही है और शासन को चूना लगाया जा रहा है इसका क्या कारण है इसे सरकार को स्पष्ट करना चाहिये?’

यह भी पढ़ें:   Migrant Worker Misery: लॉक डाउन में अपनों से बिछड़ रहे बच्चे

अधिकारी कैसे बच गए

वहीं सेनेटाईजर की कर चोरी में एक व्यापारी को तो आपने जेल में डाल दिया लेकिन इसमें किसी अधिकारी की कोई जबावदेही तय क्यों नहीं की गई और उन कार्यवाही क्यों नहीं की गई?  राठौर ने मांग की कि सरकार बताये, आज तक इस संबंध में कितने प्रकरण कायम किए गए हैं? और इन प्रकरणों पर क्या कार्रवाई की गई है? क्या यह गंभीर आर्थिक अपराध नहीं है? उपरोक्त अनियमितताओं पर तुरंत कार्रवाई की अपेक्षा करता हूं। कार्रवाई नहीं होने की दशा में हमारी पार्टी आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी।

यह भी पढ़ेंः जीतू पटवारी पर एफआईआर से भड़के कमलनाथ, सरकार को दी चेतावनी

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!