Bhopal News: नौकरानी को फंसाकर बहू हो गई थी चंपत

Share

Bhopal News: बीएसएनएल के रिटायर एजीएम की बहू ने प्रेमी के साथ मिलकर रची थी इसलिए यह साजिश

Bhopal News
सांकेतिक चित्र—साभार

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज (Bhopal News) एमपी नगर इलाके से मिल रही है। मामला सामान्य चोरी से जुड़ा था। लेकिन, जहां यह वारदात हुई थी वह परिवार सामान्य नहीं था। घटना शिवाजी नगर इलाके की थी। पुलिस घर के नौकरों से पूछताछ कर रही थी। तफ्तीश के दौरान ही घर से बहू गायब हो गई। जब पुलिस ने जांच का दायरा परिवार की तरफ बढ़ाया तो चोरी में बहू का रोल सामने आ गया। उसकी लोकेशन प्रेमी के साथ मुंबई में मिली। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

नौकरों की होती थी परेड

एमपी नगर थाना पुलिस के अनुसार शिवाजी नगर निवासी नरेश पाल सिंह (Naresh Pal Singh) ने धारा 380 का केस 29 मई को दर्ज कराया था। नरेश पाल सिंह बीएसएनएल से रिटायर एजीएम हैं। जबकि पत्नी डीपीआई में क्लास वन अधिकारी हैं। घर से पिस्टल, दो मैग्जीन, सोने की पायल, झुमकी, दो लॉकेट, सोने की चैन समेत अन्य सामान गायब था। परिवार ने घर के नौकरों पर शक जताया था। इस कारण नौकरों को थाने बुलाकर पुलिस पूछताछ कर रही थी। इसी बीच नरेश पाल के बेटे ने पत्नी 29 वर्षीय पूर्वा सिंह की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। यहां से पुलिस का माथा ठनका। पुलिस को यकीन हो गया कि नरेश पाल सिंह के परिवार में ही इस पूरे मामले का राज छुपा हुआ है।

मणप्पुरम में जेवरात रखे गिरवी

Bhopal News
आरोपियों की निशानदेही पर बरामद संपत्ति

पुलिस ने तकनीकी जांच के आधार पर एक व्यक्ति का पता लगाया। जिसके जरिए पुलिस मुंबई पहुंची। यहां पुलिस को पूर्वा सिंह (Purva Singh) मिल गई। उसके साथ अनिल पाठक (Anil Pathak) उर्फ अर्जुन उर्फ बाजीगर पिता देवेन्द्र पाठक उम्र 26 साल भी मिला। वह मूलत: ग्वालियर (Gwalior) के मुरार इलाके का रहने वाला है। फिलहाल भोपाल के त्रिलंगा इलाके में स्थित फ्लैट में वह रहता था। अर्जुन पाठक की मुलाकात पूर्वा सिंह से ग्वालियर में दो साल पहले एक शादी समारोह में हुई थी। दोनों के बीच प्रेम प्रसंग हो गया था। पूर्वा सिंह ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने घर से जेवरात चोरी करके मण्णपुरम फायनेंस कंपनी में गिरवी रख दिए। वहां से उन्हें पौने दो लाख रुपए मिले थे।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: डाॅक्टर पर किया धारदार हथियार से हमला

यह भी पढ़ें: पुलिस कह रही है महिला सड़क दुर्घटना में जख्मी हुई थी, परिवार का दावा है कि उसकी पुलिस ने ही हत्या की है

मां का दिल नहीं पसीजा

पूर्वा सिंह मुंबई में ही अनिल पाठक के साथ रहना चाहती थी। दोनों मुंबई (Mumbai) में प्रायवेट नौकरी करने लगे थे। अर्जुन पाठक (Arjun Pathak) कुंवारा है जबकि पूर्वा सिंह शादीशुदा है। उसकी शादी को लगभग पांच साल हो चुके हैं। उसकी चार साल की बच्ची भी है। मां के जाने के बाद वह कई दिनों तक उसकी याद में बिलखती रही। जबकि मां का दिल उसकी याद मेें एक बार भी नहीं पसीजा। पुलिस ने मकान से चोरी जेवरात मण्णपुरम फायनेंस कंपनी (Mannpuram Finance) से बरामद कर लिए हैं। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

इन अफसरों की रही सराहनीय भूमिका

Bhopal News
एमपी नगर थाना— फाइल फोटो

शिवाजी नगर स्थित नरेश पाल सिंह के घर में एक महीने के भीतर दो घटनाएं होने से पुलिस के अधिकारी भी चिंतित थे। पहले चोरी की घटना फिर बहू पूर्वा सिंह की लापता होने की बात को संजीदगी से लेकर कई कड़ियां मिलाई गई। इस काम मेें एमपी नगर टीआई सुधीर अरजरिया, एसआई पंकज विश्वकर्मा, केशांत शर्मा, श्वेता शर्मा, आनंद सिंह, एएसआई सत्ये​न्द्र द्विवेदी, गंगा सिंह, दिनेश सिंह, आरक्षक जितेन्द्र, और रुचि की सराहनीय भूमिका रही। इन्हीं अफसरों की टीम ने चोरी फिर गुमशुदगी के मामले का खुलासा किया।

यह भी पढ़ें: यदि आपने दोस्त बनाने के लिए इस डेटिंग एप्प को डाउनलोड किया है तो उन चेहरों के बारे में जान लीजिए जो आपके लिए मुश्किलें खड़ी करेंगी

यह भी पढ़ें:   पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस के दाम पर बोले कमलनाथ- ‘महंगाई डायन खाय जात है’

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!