Bhopal Road Accident: कोरोना संक्रमित बताकर शव नहीं सौंपेगे, इसलिए पीएम नहीं चाहता था परिवार

Share

Bhopal Road Accident: पत्नी गिरने से हुई थी जख्मी, लीलावती अस्पताल में हुई थी मौत, पति पर एफआईआर

Bhopal News
सांकेतिक चित्र—साभार

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल ताजा समाचार बैरसिया इलाके से सामने आया है। यहां एक परिवार महिला की मौत के बाद पीएम नहीं कराना चाहता था। भोपाल (Bhopal Road Accident) के हमीदिया अस्पताल में ले जाने पर परिजनों को शक हुआ कि उसको कोरोना संक्रमित बताकर प्रशासन शव नहीं सौंपेगा। विवाद की स्थिति बनी तो पुलिस के अफसरों ने परिवार को (Bhopal Road Mishap) समझाया। हालांकि इसके बाद पुलिस ने पति के खिलाफ हादसे के मामले में प्रकरण भी दर्ज कर लिया है।

एक सप्ताह पहले हुई दुर्घटना

बैरसिया थाना पुलिस के अनुसार 22 अप्रैल रात साढ़े दस बजे धारा 304—ए का केस दर्ज किया गया है। इस मामले में आरोपी सलमान खां (Salman Kha) है। पत्नी फरजाना बी (Farjana Bee) उम्र 23 साल की मौत हुई थी। परिवार नजीराबाद​ स्थित रुनाहा का रहने वाला है। आरोपी के साढ़ू भाई की तबीयत खराब थी। उसको देखने पति—पत्नी शमशाबाद गए थे। दोनों बाइक पर थे तभी शमशाबाद चौराहे पर पत्नी फरजाना बी गिर गई थी। यह हादसा 15 अप्रैल की शाम लगभग चार बजे हुआ था।

यह भी पढ़ें: अस्पताल में तो ऑक्सीजन आज नहीं तो कल पहुंच जाएगा लेकिन यह जो तस्वीरें आ रही है उसे कोई भी इतनी आसानी से नहीं भूल सकता

अस्पताल से मिली थी खबर

इस हादसे में फरजाना बी की मौत हो गई थी। उसको सिर में चोट आई थी। उसका लीलावती अस्पताल (Leelavati Hospital) में इलाज भी चला था। जांच के बाद पुलिस ने दुर्घटना के लिए पति को जिम्मेदार मानते हुए उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। परिवार इस मामले में पीएम नहीं कराना चाहते थे। परिजनों को शक था कि कोरोना संक्रमित बताने पर शव नहीं मिलने की आशंका थी। समझाईश के बाद परिवार पीएम कराने के लिए राजी हुआ।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Theft Case: नगर निगम ड्रायवर सोता रहा, सामान बटोर ले गए बदमाश
Don`t copy text!