Bhopal Wife MMS: पत्नी को ‘सबक’ सिखाने के लिए पति ने वायरल कर दिए सेक्स वीडियो

Share

Bhopal Wife MMS: दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज होने से नाराज पति की करतूत

Bhopal Wife MMS
सांकेतिक फोटो

भोपाल। शादी के बाद यादगार पलों का पति ने कुछ इस तरह से गला घोंट (Bhopal Wife MMS) दिया। उसने पत्नी के साथ बनाएं संबंधों के निजी वीडियो को वायरल (Bhopal Wife Crime Against ) कर दिया। घटना मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की है। पति उसके खिलाफ दर्ज दहेज प्रताड़ना (Bhopal Crime Against Woman) के मुकदमे से नाराज चल रहा था। इधर, घर बैठे हजारों कमाने का लालच देने वाले एक गिरोह के दो व्यक्तियों को दबोचा है।

चार महीने पहले हुई शादी

बजरिया थाना पुलिस ने बताया कि 27 वर्षीय महिला इलाके की रहने वाली है। पीड़िता एक युवक से प्रेम (Bhopal Love Afair) करती थी। दोनों पक्षों की रजामंदी से चार महीने पहल शादी हुई थी। पीड़िता का पति आटो चालक है। शादी के एक महीने बाद ही पति दहेज की मांग को लेकर उसे परेशान (Bhopal Dowry Case) करने लगा था। पीड़िता ने तंग आकर पति के खिलाफ महिला थाने में दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज करा दिया। रिपोर्ट की भनक लगते ही दोनों का विवाद शुरू हुआ। पति ने पत्नी को सबक सिखाने के लिए शादी के बाद दोनों के बीच बने संबंधों का वीड़ियों और फोटो रिश्तेदारों में वायरल कर दिया। पहले उसने पीड़िता के भाई को वीडियो (Bhopal Wife Video Viral) भेजे। पति का बोलना था कि वह दहेज प्रताड़ना का केस वापस ले नहीं तो वह इसी तरह वीडियो बांटता रहेगा। पुलिस ने गुरूवार (धारा 354सी/506/67/67ए/ छेड़छाड़, धमकी/आईटी एक्ट) के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें:   Chhindwara में बड़ा हादसा, डैम में गिरी Sumo गाड़ी, 3 की मौत

झांसा देने वाला गिरोह

राज्य सायबर सेल (Bhopal Ford Case) ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। जिसमें पिपरिया निवासी अनिरूद्ध (Anirudh) और अवधपुरी निवासी गौरव जोशी (Gourav Joshi) है। उन्होंने बताया लॉकडाउन में जब सभी तरफ बंद का ऐलान था। उसका फायदा उठाकर एमपी नगर में दो संस्थानों ने अखबार, वेबसाइट के माध्यम से लॉकडाउन के दौरान लुभावने विज्ञापन दिए थे। विज्ञापन देखकर झांसे में आए लोगों से रजिस्ट्रेशन के नाम पर तीन से पांच हजार रूपए वसूले जाते थे। सभी को 12 रूपए प्रति पेज की दर से चार हजार पेज टाइपिंग असाइनमेंट का काम दिया जाता था। असाइनमेंट पूरा होने पर पेज चैक करने के बहाने गलतियां निकालते थे। औने—पौने दाम देकर लोगों को भगा दिया जाता था। अब तक की पूछताछ में दोनों ने 400 से अधिक लोगों के साथ ठगी करने की बात कबूल ली है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!