Justice 4 Naina Pasvan: मीडिया की तो मजबूरी है, क्या अदालत में टिक पाएगी पुलिस की स्टोरी

Share

Justice 4 Naina Pasvan: भाजयुमो के गुरुनानक मंडल में सक्रिय सदस्य रहे आरोपी का नाम भी प्रेस नोट में नहीं ले सकी पुलिस

Justice 4 Naina Pasvan
भारतीय जनता युवा मोर्चा में गुरुनानक मंडल का सक्रिय सदस्य रजत कैथवास जिसको सीहोर जिले की बुधनी थाना पुलिस ने ब्यूटीशियन की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया। मृतका के पिता से प्राप्त तस्वीर

भोपाल। लापता ब्यूटीशियन (Justice 4 Naina Pasvan) की सनसनीखेज हत्याकांड का सीहोर पुलिस ने मंगलवार को खुलासा कर दिया। इस खुलासे में पुलिस ने जो कहानी बताई है वह गले नहीं उतर रही है। मीडिया की मजबूरी हो सकती है कि वह पुलिस की कहानी पर ऐतबार करके सूचना नागरिकों को बताए। लेकिन, यह कहानी अदालत में टिक पाएगी इसमें सवाल खड़े हो रहे है। ब्यू​टीशियन के कोलार इलाके से लापता होने से लेकर सीहोर के बुधनी घाट के नजदीक लाश मिलने तक की पूरी कहानी में दर्जनों पेंच है।

यह है पूरा मामला

भोपाल के कोलार थाने में 16 अक्टूबर को गुमशुदगी 151/2021 दर्ज की गई थी। यह गुमशुदगी एएसआई नंद कुमार मिश्रा ने दर्ज की थी। लापता नैना उर्फ शिखा पासवान उम्र 24 साल की दर्ज हुई थी। रिपोर्ट उसके राजहर्ष कॉलोनी निवासी पिता शारदा पासवान ने दर्ज कराई थी। वे पर्यावास भवन में स्थित केनरा बैंक में नौकरी करते है। नैना पासवान ओरा मॉल के नजदीक ड्रीम ब्यूटी पार्लर (Dream Beauty Parlor) में ब्यूटीशियन थी। वह 15 अक्टूबर को मां माया पासवान (Maya Pasvan) से दुर्गा झांकी देखने जाने का बोलकर निकली थी। घर से वह मोपेड एमपी—04—क्यूजे—9233 लेकर निकली थी। पिता ने बोला था कि यदि देर हो जाए तो वह दादी रामकली बाई (Ramkali Bai) के मकान रुक जाए। पहले शारदा पासवान का परिवार गौतम नगर इलाके में ही रहता था। रात को पिता ने फोन लगाया तो मोबाइल बंद था। पुराने शहर में परिचितों को फोन लगाया तो वह वहां आने से इंकार कर दिया गया।

ऐसी हालत में मिली लाश

Justice 4 Naina Pasvan
शिखा पासवान जिसकी निर्मम तरीके से हत्या की गई थी।

पिता शारदा पासवान (Sharda Pasvan) ने बताया कि उन्हें अगले दिन 16 अक्टूबर की सुबह लगभग 11 बजे निशातपुरा थाने से फोन आया। पुलिस कर्मचारियों ने बताया कि उनकी मोपेड जली हुई हालत में करोद इलाके में मिली है। इसके बाद उन्होंने निशातपुरा पुलिस से बेटी शिखा पासवान (Shikha Pasvan) की रिपोर्ट दर्ज करने के लिए कहा। निशातपुरा पुलिस ने परिवार से कहा कि वह कोलार थाने में गुमशुदगी दर्ज करे। इस कारण 16 अक्टूबर की दोपहर साढ़े बारह बजे गुमशुदगी दर्ज हुई। इसके बाद बुधनी थाना पुलिस से 17 अक्टूबर को फोन आया। पुलिस ने बताया कि बेटी की लाश बुधनी थाना क्षेत्र स्थित मिड घाट पर मिली है। बुधनी थाना पुलिस ने पहले मर्ग 38/21 दर्ज किया। जिसके बाद 445/21 धारा 302/201 (हत्या और सबूत मिटाने) का मुकदमा दर्ज किया। उसको चाकू मारकर हत्या की गई थी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: तलवार मारकर किया जख्मी

रिपोर्टरों के कान में बताए आरोपी के नाम

Justice 4 Naina Pasvan
यह है सीहोर पुलिस का प्रेस नोट जिसमें छह बार ‘साहब’ लिखने का इतना ध्यान रहा कि आरोपी का नाम नहीं लिखा गया।

सीहोर पुलिस की तरफ 19 अक्टूबर को नैना पासवान (Justice 4 Naina Pasvan) हत्याकांड का खुलासा किया गया। एसपी मयंक अवस्थी (SP Mayank Avasthi) ने दावा किया कि आरोपी को चौबीस घंटे के भीतर दबोच लिया गया। सीहोर जिला पुलिस की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार आरोपी ने शिखा पासवान को पहले टीलाजमालपुरा इलाके में बुलाया। फिर उसको रेहटी स्थित सलकनपुर उसकी मोपेड से ले गया। मंदिर में दर्शन करने के बाद दोनों बुधनी मिडघाट की तरफ आए। यहां लघुशंका का बहाना बनाकर आरोपी ने हत्या की। फिर आरोपी मोपेड लेकर करोद आया। यहां उसने उसकी मोपेड को पूरी तरह से जला दिया। हालांकि इस पूरे खुलासे में मृतका और आरोपी का नाम प्रेस नोट में नहीं बताया गया। लेकिन, प्रेस नोट में छह बार एसपी, एएसपी और एसडीओपी के नाम के आगे ‘साहब’ जरुर लिखा गया। मतलब साहब की भावनाओं का ख्याल रहा लेकिन आरोपी की पहचान उजागर न हो जाए उसका भी ध्यान रखा गया।

चुप्पी के पीछे भाजपा तो नहीं

Justice 4 Naina Pasvan
इस हालत में निशातपुरा थाना पुलिस को नैना पासवान की मोपेड मिली थी।

सीहोर पुलिस ने शिखा पासवान की बेरहमी से हत्या के मामले में रजत कैथवास (Rajat Kaithvas) को गिरफ्तार किया है। उसके पिता रविशंकर कैथवास है जो कि मध्यप्रदेश शासन में एक मंत्री के वाहन चालक है। इसके अलावा रविशंकर कैथवास भारतीय जनता युवा मोर्चा का सक्रिय सदस्य था। वह गुरुनानक मंडल से जुड़ा था। हालांकि मंडल अध्यक्ष राकेश कूकरेजा (Rakesh Kukreja) का कहना है कि यह मंडल अभी अस्तित्व में आया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार उसको कोलार पुलिस ने पकड़कर बुधनी थाना पुलिस को सौंपा था। नैना पासवान के पिता ने बताया कि वह उनका रिश्तेदार भी था। आरोपी ने बेटी को ब्लैकमेल करने के लिए वीडियो भी वायरल किया था। जिसके बाद दोनों परिवारों में गौतम नगर थाने में समझौता हुआ था। समझौता दोनों की शादी को लेकर हुआ था। लेकिन, बेटी केवल एक महीने ही उसके साथ रह सकी। इसके बाद वह मायके आ गई थी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide Case : खुदकुशी के तीन संगीन तरीके

घर में लगे हैं कैमरे

Justice 4 Naina Pasvan
बुधनी के जंगल से बरामद शव जिसकी पहचान कोलार से लापता नैना उर्फ शिखा पासवान के रुप में हुई।

पिता ने बेटी की हत्या के बाद अभियान (Justice 4 Naina Pasvan) चला दिया है। उन्होंने बुधवार से सोशल मीडिया के जरिए जनता से अपील की है कि मैं अपनी फूल जैसी बेटी का विधि पूर्वक अंतिम संस्कार नहीं कर सका। रजत कैथवास ने राजनीतिक ताकत का इस्तेमाल करके घटना की है। उन्होंने समाज से मांग की है कि मैं असहाय पिता हूं जो बेटी को पापी से नहीं बचा सका। समाज में मौजूद ऐसे दरिंदों से अपनी—अपनी बेटी को बचाने की उन्होंने अपील की है। उन्होंने सरकार और सिस्टम से ऐसी सजा दिलाने की अपील की है ताकि दूसरों की रुंह कांप जाए। पिता ने पुलिस प्रशासन पर रजत कैथवास के परिजनों को भी बचाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि आरोपी के घर पर कैमरे लगे हैं। उसने हत्या के बाद सबूत घर पर जाकर मिटाए। ऐसे में परिजनों को कैसे क्लीनचिट दी जा सकती है।

यह भी पढ़ें: भोपाल के इस बिल्डर पर सिस्टम का ‘रियायती सैल्यूट’, परेशान हो रहे 100 से अधिक परिवार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Justice 4 Naina Pasvan
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!