Bhopal Theft Case: टाइपिंग मिस्टेक से परेशान हुए टीआई

Share

Bhopal Theft Case: छत के रास्ते घर में घुसे बदमाशों ने सोने—चांदी के जेवरात समेत नकदी बटोरी

Bhopal Theft Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। थानों में मुकदमा दर्ज होने के बाद उसकी जानकारी अफसरों को दी जाती है। यह जानकारी पुलिस कंट्रोल रुम में तैयार होती है। इसी जानकारी बनाने के दौरान एक तकनीकी चूक से मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के टीआई परेशान हो गए। मामला घर में घुसकर हुई चोरी (Bhopal Theft Case) से जुड़ा था। इस चूक पर टीआई भरत प्रताप सिंह (Bharat Pratap Singh) दिनभर अफसर और मीडिया को सफाई देते रहे।

यह भी पढ़ें: पुलिस से एफआईआर मांगी तो बुजुर्ग को भूखे सोने के लिए मजबूर कर दिया

कंट्रोल के सेल्समेन ने दर्ज कराई थी एफआईआर

राजधानी भोपाल के देहात क्षेत्र स्थित नजीराबाद इलाके में यह चोरी (Najirabad Me Chori) की घटना हुई थी। मामला 31 जुलाई की रात हुआ था। जिसकी एफआईआर 1 अगस्त की दोपहर तीन बजे दर्ज हुई थी। शिकायत सिंगोड़ा गांव में रहने वाले अमर सिंह विश्वकर्मा (Amar Singh Vishwkarma) पिता नाथूलाल उम्र 45 साल ने दर्ज कराई थी। अमर सिंह गांव के ही एक कंट्रोल में सेल्समेन का काम करता है। उसके मकान से चोर सोने—चांदी के जेवर कीमती करीब 40 हजार रुपए और नकदी 35 हजार रुपए (Bhopal Stolen Case) ले गए थे। पुलिस ने इस मामले में धारा 457/380 (रात में चोरी) का मुकदमा दर्ज किया था।

इसलिए दी सफाई

अमर सिंह विश्वकर्मा का मकान तीन मंजिला है। चोर छत के रास्ते घर में घुसे। दूसरी मंजिल पर सीढ़ी रखी थी। इस सीढ़ी को लगाकर चोर तीसरी मंजिल पर पहुंचे। चोर ने जिस कमरे में वारदात की वहां अमर सिंह विश्वकर्मा सो रहा था। उसको चोर के आने—जाने की आहट का अहसास नहीं हुआ। पुलिस ने चोरी गई संपत्ति की कीमत करीब 75 हजार रुपए बताई थी। लेकिन, कंट्रोल रुम में दर्ज जानकारी में शून्य बढ़ा दिया गया। इसलिए चोरी का मामला साढ़े सात लाख रुपए का हो गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Dowry Case: पति करता था दहेज को लेकर प्रताड़ित

यह भी पढ़ें: चिरायु अस्पताल की छत में चल रहा डांस बता रहा है कि कोरोना के वायरस को लेकर मरीज अब नहीं घबराते

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!