देखिए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की धमाचौकड़ी, चिरायु अस्पताल की छत पर नाच रहे

Share

कोरोना के इलाज में लापरवाही या वाकई बीमारी को हौव्वा बनाया जा रहा

Corona Patient Dance
हॉस्पिटल की छत पर नाचते मरीज

भोपाल। (Corona Patient Dance) देश में कोरोना महामारी को लेकर भय का माहौल है। मध्यप्रदेश में भी स्थिति बिगड़ती हुई दिखाई दे रही है। ऐसे में कोरोना को कंट्रोल करने के नाम पर सरकार और प्रशासन तमाम फैसले ले रहा है। बार-बार सख्ती बरतने की बातें कहीं जाती है। बाजार के खुलने-बंद होने के समय को लेकर आदेश जारी किए जा रहे है। अब सरकार ने तय किया है कि शनिवार-रविवार प्रदेश में पूरी तरह लॉकडाउन रहेगा। सरकार के इन फरमानों पर भले ही कोई खुलकर कुछ न बोले, लेकिन सोशल मीडिया पर लोग अपनी भड़ास निकाल ही देते है।

लोगों के तर्क बताते है कि ये सरकारी आदेश कितने अव्यवहारिक है। दबी जुबान में ही सही, लेकिन लोगों का सवाल है कि क्या कोरोना शनिवार-रविवार को दौरे पर निकलता है, लोगों का ये भी दावा है कि कोरोना को हौव्वा बनाकर पेश किया जा रहा है। चिरायु हॉस्पिटल से सामने आए इस वीडियो में ये बात नजर भी आती है। हालांकि द क्राइम इन्फो इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता।

कोविड-19 मरीजों का डांस

नाचते-कूदते, मस्ती कर रहे इन लोगों को देखकर कौन कहेगा कि ये बीमार लोग है। अस्पताल की छत पर धमाचौकड़ी मचा रहे इन लोगों की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। कोरोना, जिसके नाम का टैरर पूरे वर्ल्ड में हैं, उस वायरस ने इन लोगों को भी संक्रमित किया है। लेकिन ठुमके लगाने की अदा देखकर शायद ही कोई इन लोगों को बीमार कहे। यहां तक कि ये लोग तो खुद कह रहे है कि ‘कोरोना कुछ नहीं होता’ । एक दावा ये भी किया जा सकता है कि इन लोगों को क्वारंटाइन किया गया था। तो फिर ये इतनी बड़ी संख्या में क्वारंटाइन किए गए लोग छत पर कैसे पहुंच गए। डांस करते वक्त क्या सोशल डिस्टेंसिंग का नियम नहीं टूट रहा ?

यह भी पढ़ें:   Love Jihad : सुरेंद्रनाथ सिंह की बेटी को गायब कराने में कांग्रेस विधायक का हाथ- भाजपा नेता

चिरायु अस्पताल का वीडियो होने का दावा

वीडियो कोविड-19 सेंटर बनाए गए भोपाल के चिरायु अस्पताल का है। कोविड-19 पॉजीटिव मरीजों को यहां भर्ती कराया जाता है। इलाज का पैसा सरकार देती है। सबसे ज्यादा मरीजों को ठीक करने का दावा भी यहीं से किया जाता है। चिरायु को कोविड-19 सेंटर बनाए जाने पर तमाम सवाल पहले भी उठ चुके थे। लेकिन रिकवरी रेट के सामने वो सवाल दब कर रह गए।

लेकिन ताजा सवाल बीमारी की गंभीरता पर है। क्या वाकई कोरोना खतरनाक बीमारी है ? तो फिर कोरोना संक्रमित डांस कैसे कर रहे है।  कोरोना के नाम पर जनता के बीच दहशत का माहौल बनाना जरूरी है ? क्या दुकानों के खुलने-बंद होने का समय तय करने और रविवार शनिवार को लॉकडाउन कर देने से संक्रमण रुक जाएगा ?

दो दिन का लॉकडाउन

एक तरफ प्रदेश में संक्रमण के तेजी से फैलने का खतरा बताया जा रहा है। इंदौर-भोपाल में मरीजों की संख्या चिंता का विषय है। लिहाजा सरकार और प्रशासन की तरफ से सख्ती से निपटने की बातें की जा रहीं है। भोपाल कलेक्टर कलेक्टर अविनाश लवानिया ने तो पुराने शहर के कई हिस्सों में लॉक डाउन लागू करने के आदेश भी जारी कर दिए है। अगले दो दिनों तक पुराना शहर बंद रहेगा। प्रदेश में शनिवार-रविवार को कर्फ्यू के आदेश पहले से ही जारी है।

देखें वीडियो

हॉस्पिटल की छत पर नाच रहे कोरोना के मरीज, ये कहां से बीमार नजर आते है ?

Gepostet von The Crime Info am Dienstag, 21. Juli 2020

 

कोरोना में चिरायु की चर्चा

वीडियो में कैद मरीज डांस कर रहे हैं। इसमें सोशल डिस्टेसिंग के नियम भी खुलेआम तोड़े जा रहे है। इतनी भारी संख्या में मरीज छत पर कैसे पहुंच गए यह जांच का विषय है। चिरायु अस्पताल शुरुआत से सुर्खियों में रहा है। यहां भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या हो या फिर मंत्रियों के दौरे चर्चा होती रही है। अब इस ताजा वीडियो ने फिर से इस कोविड सेंटर को लेकर सवाल खड़े कर दिए हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Robbery: लॉक डाउन के बीच चोरों ने तोड़े ताले

यह भी पढ़ेंः जानिए क्यों सड़कों पर बहाया जा रहा हजारों लीटर दूध, मोदी सरकार से खफा है किसान

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!