Bhopal Mobile Shop Robbery: चोरों ने दिखाई चालाकी, शटर न खोल ले इसलिए कपड़ा बांध दिया

Share

Bhopal Mobile Shop Robbery: पुलिस सामान का बिल मांगेगी इसलिए वह भी अपने साथ ले गए बदमाश, तीन महीने पहले भी हुई थी एक अन्य दुकान में वारदात

Bhopal Mobile Shop Robbery News
दुकान केे पिछले हिस्से में ऐसे चोरों ने लगाई थी सेंध

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Mobile Shop Robbery) के हनुमानगंज इलाके में जीएमपी मोबाइल शॉप को चोरों ने निशाना बनाया। शातिर चोर पुलिस की कार्यप्रणाली से बखूबी वाकिफ थे। इसलिए उन्होंने कई तकनीकी पेंच में दुकान मालिक को उलझा दिया। वारदात के वक्त कोई भूले से न आ जाए इसलिए भीतर से शटर के कुंदे में कपड़ा बांध दिया था। वारदात के लिए चोरों ने दुकान में पीछे से सेंध मारी थी।

पुलिस बिल मांग रही जो है नहीं

हनुमानगंज थाना पुलिस के अनुसार चोरी की वारदात का मुकदमा 31 मार्च की दोपहर लगभग ढ़ाई बजे धारा 457/380 (रात में चोरी) का प्रकरण दर्ज किया गया है। शिकायत ओल्ड सिंधी कॉलोनी बैरसिया रोड निवासी 33 वर्षीय विजय कुमार (Vijay Kumar) ने दर्ज कराई है। पुलिस ने चोरी गई संपत्ति की कीमत 30 हजार रुपए बताई है। जबकि विजय कुमार ने बताया कि उसकी दुकान से लगभग 8—10 एंड्रायड मोबाइल चोरी गए हैं। इसके अलावा मोबाइल के महंगे एसेसरीज भी नहीं है। दुकान मालिक का दावा है कि चोरी गई संपत्ति करीब एक लाख रुपए की है। उसके पास बिल नहीं होने के कारण पुलिस कम माल बता रही है। वह केवल तीन मोबाइल के बिल ही पेश कर सका है।

पहले भी हुई थी वारदात

Bhopal Mobile Shop Robbery News
दुकान में फैले एसेसरीज के डिब्बे जिनसे माल निकाल ले गए चोर

विजय कुमार ने बताया कि सेंध लगाने के बाद दुकान में चोर घुसे थे। संभावना जताई जा रही है कि वारदात में किसी बच्चे का इस्तेमाल किया गया है। उनकी दुकान में दो नौकर है। जिसमें से एक नौकर सप्ताह भर से बिना बताए गायब है। चोर दुकान में सेंध मारकर भीतर घुसे थे। शटर कोई न खोल ले इसलिए भीतर से उसमें कपड़ा बांध दिया गया था। विजय कुमार ने बताया कि हमीदिया रोड पर जहां उनकी दुकान है उसके नजदीक ही एक अन्य मोबाइल दुकान पर चोरी की वारदात हुई थी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Theft: लोको पायलट के घर का ताला चोरों ने तोड़ा

यह भी पढ़ें: इस वर्दी पहने दिल्ली के एसीपी के झांसे में न आना, वरना पूरे परिवार को पड़ेगा पछताना 

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!