Bhopal Suspicious Death: शहर में सांप ने काटा देहात में जाकर इलाज कराने पहुंचा परिवार

Share

Bhopal Suspicious Death: मासूम बालक समेत दो व्यक्तियों की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत

Bhopal Suspicious Death
सांकेतिक फोटो

भोपाल। मौके पर जरा सी जागरुकता जान बचा सकती है। यकीन नहीं होता तो मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Suspicious Death) की एक घटना से सबक ले लीजिए। मामला सांप के काटने से हुई मौत का है। यहां एक पांच साल के बच्चे को सांप ने काट लिया। लेकिन, परिजन शहर के अस्पताल ले जाने की बजाय उसे गांव ले गए। इधर, एक अन्य व्यक्ति की करंट से झुलसकर मौत (Bhopal Crime News) हो गई है। दोनों मामलों में पुलिस ने मर्ग कायम किया है।

दूसरे जिले से आई केस डायरी

पिपलानी थाना पुलिस ने बताया चंदा बरेला (Chanda Barela) पिता राय बरेला उम्र पांच साल की सांप काटने से मौत हो गई हैं। परिजनों ने बताया चंदा बरेला मोर्या साहब की नर्सरी जम्बूरी मैदान इलाके में रहती थी। पिता राय बरेला मजदूरी करता हैं। गुरूवार शाम चंदा घर के बाहर खेल रही थी। तभी एक सांप ने बच्ची (Bhopal Girl Snake Bite) को काट लिया था। परिजन उसे बिलकिसगंज स्थित सामुदायिक अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां इलाज के दौरान डॉक्टरों ने उसे रात दस बजे मृत घोषित कर दिया। अस्पताल से मर्ग की सूचना बिलकिजगंज थाने में दी गई थी। जहां शून्य पर मर्ग कायम कर डायरी पिपलानी थाने जांच के लिए भेजी गई है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी ने शहर में इतने लोगों को दिया था धोखा

ठेकेदार ने लगाई थी लेबर

गुनगा थाना पुलिस ने बताया नरेश अहिरवार (Naresh Ahirwar) पिता मोहर सिंह उम्र 40 साल की गुरूवार दोपहर एक बजे मौत हुई है। जांच अधिकारी राजवीर सिंह (Rajveer Singh) ने बताया नरेश अहिरवार (Naresh Ahirwar) मूलतः दिल्लौद गांव का रहने वाला हैं। वह मजदूरी करता था। दिल्लौद इलाके में संतोष नागर (Santosh Nagar) के मकान का काम चल रहा था। संतोष नागर ने मकान का ठेका अनिल मालवीय (Anil Malviya) को दिया था। अनिल ने नरेश को मजदूरी के लिए रखा था। बुधवार दोपहर मकान की छत डल रही थी। छत डालते समय लोहे की सरिया कटे तार के संपर्क में आ गई थी। नरेश के हाथ लगाते ही उसे करंट का झटका लगा था। लोगों ने उसे हमीदिया अस्पताल पहुंचा था। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें:   MP IPS Transfer: डीआईजी और एआईजी के बीच कार्य विभाजन

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!