Fake Covid Vaccine App: नकली रेमडेसिविर के बाद वैक्सीन रजिस्ट्रेशन का फर्जी एप

Share

Fake Covid Vaccine App: एमपी स्टेट सायबर सेल ने लोगों को जागरुक करने जारी की एडवायजरी

Fake Covid Vaccine App
सांकेतिक चित्र

भोपाल। मध्य प्रदेश में एडीजी राज्‍य सायबर सेल योगेश चौधरी (ADG Yogesh Choudhry) ने एडवाइजरी जारी की है। उन्होंने कहा है कि वर्तमान कोरोना महामारी का फायदा उठाने वर्चुअल दुनिया में अपराधी सक्रिय है। वे एक फर्जी मोबाइल एप्लीकेशन (Fake Covid Vaccine App) बनाकर उसकी लिंक मैसेज के माध्यम से भेज रहे हैं। यह Vaccine Registration के लिए उसे डाउनलोड करने के लिये कहते हैं। उसके बाद एप्लीकेशन के माध्यम से मेलवेयर हमारे मोबाइल में आ जाते हैं। यह हमारे मोबाइल सुरक्षा के लिये घातक साबित हो सकते हैं।

यह हो सकता है नुकसान

फर्जी मोबाइल एप्लीकेशन तैयार होने से संबंधित कुछ जानकारी वर्चुअल पेट्रोलिंग के दौरान स्टेट सायबर सेल को मिली है। यह जानकारी दूसरे प्रांतों से भी साझा हुई है। कोविड वेक्सीन के लिये रजिस्ट्रेशन की एप्लीकेशन दिखाते हुये उक्त एप इंस्टाल करने कहते हैं। जब हम लिंक पर क्लिक करके उस एप्लीकेशन को इंस्टाल करते हैं तो वह हमारे मोबाइल की बहुत सारी परमीशन लेता है जो की हम दे देते हैं। फिर वह एप्लीकेशन अपना असली काम शुरू करती है। वह हमारे पर्सनल फोटोस, वीडियोस सारे कॉंटेक्ट, एसएमएस, व्हाट्सएप की चेट, मोबाइल में सेव बैंकिंग के पासवर्ड हमारे सारे ईमेल आदि सायबर अपराधियों तक पहुंचा देती है। इसके अलावा हमारी जानकारी के बगैर यह एप हमारे सभी कॉंटेक्ट को मैसेज भेज सकता है। यह एक तरह की फिशिंग तकनीक है जिसे “एसएमएस वोर्म” नाम दिया गया है।

अपडेट करें मोबाइल

Bhopal Cyber Crime
QR Code OTP Fraud File Image

कोविड रजिस्ट्रेशन के लिये केवल Co-Win तथा आरोग्य सेतु एप के माध्यम से ही रजिस्ट्रेशन करें। सर्च, सोशल मीडिया अथवा अन्य संचार माध्यमों से किसी भी प्रकार के आये एसएमएस से प्राप्त किसी लिंक पर क्लिक नहीं करें। प्राप्त होने वाले फर्जी कॉल, एसएमएस और ईमेल पर बिना पुष्टि करे विश्वास न करें। अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे, ओटीपी, पिन, आधार नम्बर, अकॉंउट नम्बर, डेबिट/क्रेडिट कार्ड की जानकारी किसी से शेयर न करें। मोबाइल के जरूरी अपडेट को समय समय पर इंस्टाल करते रहे जो आपके मोबाइल को इस तरह के मैलवेयर हमले से बचा कर रखते हैं। साथ ही कोई अच्छा एंटीवायरस अपने मोबाइल में इंस्टाल करें।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: पांच राज्यों की पुलिस पड़ी थी पीछे इसलिए नेपाल भागा
Don`t copy text!