MP Lock Down Hint: एमपी के महानगरों में लॉक डाउन के संकेत

Share

MP Lock Down Hint: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा आपातकाल में “आपात धर्म” निभाने से नहीं चूकूंगा

MP Lock Down Hint
निरीक्षण के दौरान सीएम शिवराज-File Photo

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने साफ—साफ संकेत दे दिए है कि कुछ महानगरों में सख्त कदम (MP Lock Down Hint) उठाए जाने की तैयारी है। इसके लिए उन्होंने कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों को वजह बताया है। यह बात उन्होंने भोपाल में पत्रकारों से की है। इसके अलावा उन्होंने जनता से अपील की है कि वे होली का त्यौहार अपने—अपने घरों में मनाए। इस संबंध में अंतिम निर्णय देर रात लगभग आठ बजे तक आने के इशारे भी मिले हैं।

इसलिए बढ़ी चिंता

मध्य प्रदेश में पिछले चौबीस घंटों के दौरान 1885 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। यह ग्राफ बहुत तेजी से बढ़ रहा है। जिसको नियंत्रित करने के लिए सरकार की तरफ से जनता को जागरुक करने के लिए तमाम कवायद की जा रही है। इंदौर में सर्वाधिक 584 मरीज मिले हैं। इसके अलावा दूसरे नंबर पर मरीजों की संख्या 398 पर पहुंच गई है। इस संबंध में शुक्रवार शाम मुख्यमंत्री क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक करने जा रहे हैं। इस बैठक में शहरों के अनुसार मुख्यमंत्री फैसला लेंगे। इसके लिए अफसरों ने अलग—अलग तरह के तीन प्रस्ताव बना लिए है। इन्हें लागू करने के लिए मुख्यमंत्री की सहमति ली जाएगी।

यह भी पढ़ें: भोपाल के पूर्व महापौर जिस दल के हैं वह हिंदू समाज को लेकर आगे रहती है, लेकिन मंदिर को लेकर वे कौन सी राजनीति कर रहे

यह बोले मुख्यमंत्री

MP Lock Down News
राजधानी भोपाल में कोरोना से निपटने तैनात पुलिस अधिकारी संदेश के साथ फाइल फोटो

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं लॉक डाउन के विरोध में रहा हूं। उससे बेरोजगार होने से लेकर कारोबार प्रभावित होता है। लेकिन, प्रदेश के नागरिकों की सुरक्षा की चिंता करना भी मेरा धर्म है। महामारी को नियंत्रित करने के लिए आपात धर्म है। यह धर्म सभी को मंजूर होगा भी। आपातकाल में कुछ मर्यादा रखनी पड़ती है। मैं आज निर्णय लूंगा। उन्होंने कहा कि लोगों को होली का त्यौहार घर में मनाना चाहिए। इधर, इस फैसले से पहले ही व्यापारियों ने विरोध शुरु कर दिया है। भोपाल के प्रमुख बाजारों में से एक न्यू मार्केट व्यापारी संघ ने रात 10 की बजाय 8 बजे तक दुकान बंद करने के फैसले की चर्चा की निंदा शुरु कर दी है।

यह भी पढ़ें:   भाजपा में जश्न शुरु, सिंधिया के मंत्री जीत की तरफ अग्रसर

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!