Jabalpur Fraud Case: अगर आपने केयर टेकर रखा है तो पढ़ें यह खबर

Share

Jabalpur Fraud Case: वृद्ध दंपत्ति की सेवा करने वाली आया लाखों का माल लेकर फरार

Jabalpur Fraud Case
सांकेतिक चित्र

जबलपुर। यह खबर उन लोगों के लिए चेतावनी हो सकती है जिनके घर में केयर टेकर (Care Taker Fraud Case) काम करते हैं। मामला मध्य प्रदेश के जबलपुर (Jabalpur Fraud Case) जिले से सामने आया है। यहां एक वृद्ध दंपत्ति के खाते से लाखों रुपए निकाल लिए गए। मामला जालसाजी का था। जिसमें पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाली युवती को दबोच लिया है।

इसलिए रखी थी केयर टेकर

घटना ओमती थाना क्षेत्र की है। शिकायत 81 वर्षीय श्रीमती वायलेट प्रसाद (Voilet Prasad) ने दर्ज कराई है। उनका आरोप है कि आया दो लाख रुपए लेकर फरार हो गई है। उन्होंने बताया कि उनका बेटा और बेटी दूसरे शहर में रहते हैं। जबलपुर में वह अपने पति के साथ रहती हैं। वह और उनके पति दोनों को चलने में परेशानी होती है। इसलिए खुद के काम कराने के लिए उन्हें एक आया की जरूरत थी। वृद्ध दंपत्ति ने पूजा काछी से केयर टेकर ढूंढ़ने के लिए कहा था। वह सात अक्टूबर को सुलोचना रैदास को लेकर आई। दंपत्ति ने उसे काम पर रख लिया।

नहीं लौटाया एटीएम

सुलोचना कुछ ही दिनों में उनकी विश्वासपात्र बन गई। दंपत्तियों ने उसे बैंक भी भेजना चालू कर दिया। एक दिन उसे बैंक से 15,000 रुपए निकालने के लिए भेजा। वापस आकर सुलोचना ने कहा कि बैंक में हस्ताक्षर काम नहीं कर रहे हैं। वायलेट ने अंगूठा लगाकर दे दिया। उसने फिर वापस आकर कहा कि अंगूठा भी काम नहीं कर रहा। दंपत्ति ने उसे एटीएम देकर उसका पिन भी बता दिया। सुलोचना 15,000 रुपए लेकर आई और वायलेट को दे दिया। एटीएम वापस मांगने पर उसने बात टाल दी और उसे नहीं लौटाया।

यह भी पढ़ें:   MP Police Gossip: टीआई को रसूख दिखाना महंगा पड़ा

नहीं मालूम था पता

सुलोचना ने घर जाने की 13 नवंबर को छुट्टी मांगी। वायलेट ने उसे छुट्टी दे दी। बैंक अधिकारी ने वायलेट को फोन करके बताया कि उनके अकाउंट से 2 नवंबर से 20 नवंबर के बीच दो लाख चार हजार रुपए निकाले गए हैं। उन्होंने वायलेट से पूछा कि क्या यह पैसे वही निकाल रही हैं। वायलेट के मना करने पर एटीएम को ब्ल़ॉक कर दिया। जांच में पता चला कि पैसे सुलोचना निकाल रही है। दंपत्ति सुलोचना के घर का पता नहीं जानता था। पुलिस ने सुलोचना का नंबर ट्रैस किया। उसकी लोकेशन कटनी में मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने एक टीम वहां भेजी। शुक्रवार को कटनी से सुलोचना को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस उससे ठगी की रकम बरामद करने में जुटी है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली का यह वर्दीधारी एसीपी जिसकी बिना एफआईआऱ गुपचुप भोपाल पुलिस कर रही तलाश

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!