MP Assembly : पार्टी बदलने के लालच पर भाजपा विधायक बोले- गरीब हूं…बिकाऊ नहीं

Share

भाजपा विधायक सीताराम आदिवासी ने कांग्रेस नेताओं पर लगाया लालच देने का आरोप

भाजपा विधायक सीताराम आदिवासी

भोपाल। मध्यप्रदेश (MP Assembly) में कांग्रेस सरकार को भाजपा के दो विधायकों के समर्थन के बाद जोड़-तोड़ की सियासत तेज हो गई हैं। एक तरफ सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी के कई नेता लगातार कह रहे है कि अभी तो यह ट्रेलर हैं पिक्चर अभी बाकि हैं। तो वहीं अब भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक ने खुलकर कांग्रेस पर आरोप लगाया हैं। श्योपुर जिले की विजयपुर विधानसभा से विधायक ((Vijaypur MLA)) सीताराम (Sitaram Adivasi) आदिवासी ने कांग्रेस नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

सीताराम आदिवासी के मुताबिक कांग्रेस नेताओं ने उन्हें पार्टी बदलने के लिए लालच दिया। उन्हें कहा गया कि यदि वे कांग्रेस में आते हैं तो वे जो चाहेंगे मिलेगा। इस प्रलोभन का जवाब देते हुए सीताराम आदिवासी ने कहा कि वे गरीब हैं, लेकिन बिकाऊ नहीं हैं। वे भाजपा में ही रहेंगे।

बता दें कि मध्यप्रदेश में पार्टी बदलने के लिए प्रलोभन दिए जाने के आरोपों वाला ये पहला मामला नहीं हैं। सरकार को समर्थन दे रहीं बहुजन समाज पार्टी की विधायक रामबाई भाजपा नेताओं पर कई बार आरोप लगा चुकीं हैं। रामबाई का भी कहना है कि भाजपा नेता उन्हें करोड़ों रुपए देने की पेशकश कर चुके हैं। वे चाहते है कि रामबाई कांग्रेस को समर्थन न दें।

विधानसभा के बजट सत्र के दौरान भाजपा के दो विधायकों नारायण त्रिपाठी और शरद कोल ने सरकार के समर्थन में वोटिंग की थी। जिसके बाद वो मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ हो लिए। हालांकि दोनों विधायकों ने भाजपा से इस्तीफा नहीं दिया हैं और न ही भाजपा ने दोनों विधायकों को बाहर निकाला है। लेकिन भाजपा विधायकों के समर्थन के बाद कांग्रेस सरकार मजबूत हुई हैं। उसका दावा है कि भाजपा के करीब 10 विधायक जल्द ही कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation Case: रिजल्ट लेकर लौट रही छात्रा से छेड़खानी

यहां तक कि कांग्रेस सरकार में राज्य मंत्री का दर्जा पाने वाले कंप्यूटर बाबा भी कह चुके है कि भाजपा के चार विधायक उनके संपर्क में हैं। जब चाहे शामिल करा देंगे।

Don`t copy text!